दिल्ली: कैंटोमेंट एरिया में चोरी की वारदातों के पीछे आर्मी ऑफिसर

दिल्ली पुलिस ने एक ऐसे हाई प्रोफाइल गैंग को पकड़ा है जो बेहद सुरक्षित आर्मी कैंट एरिया में सेना के बड़े अफसरों के यहां चोरी की वारदातों को अंजाम देता था. आर्मी कैंट एरिया में चोरी की वारदातों में संलिप्तता के आरोप में एक निलंबित आर्मी मैन भी गिरफ्तार हुआ है.

क्राइम ब्रांच के DCP भीष्म सिंह के मुताबिक, उनकी टीम को चोरी का वारदातों और आरोपियों की जानकारी मिलिट्री इंटेलिजेंस की टीम ने अपनी शुरुआती जांच के बाद दी. क्राइम ब्रांच ने जब मामले की जांच शुरू की और कैंट एरिया के CCTV फुटेज देखे तो उनसे कई सुराग मिले.

इसके बाद 18 मार्च को द्वारका सेक्टर 1 इलाके से एक आरोपी को ह्यूंडई i10 कार और चोरी के सामान के साथ गिरफ्तार किया गया. गिरफ्तार आरोपी की निशानदेही पर उसके बाकी के दो साथी भी गिरफ्तार कर लिए गए. पुलिस ने आरोपियों की पहचान धर्मवीर, दीपक और धीरज के रूप में की है.

9वीं की छात्रा ने की खुदकुशी, पिता ने लगाया टीचर्स पर छेड़छाड़ का आरोप

पुलिस के मुताबिक धर्मवीर मिलिट्री इंजीनियरिंग सर्विस में फिटर जनरल मेकैनिक के पद पर तैनात रहा है, लेकिन इस समय निलंबित चल रहा था. उसने 1988 में आर्मी जॉइन की थी, लेकिन 1995 में एक कैप्टन के साथ मारपीट के आरोप में उसे गिरफ्तार कर लिया गया था.

फिर उसे 2009 में चोरी के एक अन्य मामले में गिरफ्तार किया गया. इस दौरान जेल में उसकी मुलाकात धीरज और दीपक से हुई. जेल से बाहर आने के बाद उसने अपना गैंग बनाकर आर्मी अफसरों के यहां चोरियां शुरू कर दीं.

वह धीरज और दीपक की एंट्री अपने पुराने आई कार्ड के जरिए कैंटोमेंट इलाके में करा देता था. दरअसल वह अपनी कार में इन दोनों को बैठाता, फिर अपने आई कार्ड के जरिए इनकी एंट्री करा देता. जिससे किसी को भी इन पर शक नहीं होता था.

फिर इसके बाद तीनों इलाके की रेकी करते आर्मी ऑफिसर्स के घरों को अपना निशाना बनाते थे. पुलिस के मुताबिक इस गिरोह ने अब तक इन वारदातों को अंजाम दिया-:

23 दिसंबर, 2017 को मेजर श्रीमती संभूति अरोरा के यहां चोरी की

2, फरवरी, 2018 को मेजर देवदत्त देशपांडे के यहां चोरी की

27 फरवरी, 2018 को ब्रिगेडियर मुकेश अग्रवाल के यहां हाथ साफ किया

27 फरवरी, 2018 को ही कोमोडोर एमिल जॉर्ज के यहां चोरी की

14 मार्च, 2018 मार्च को इन लोगों ने ब्रिगेडियर चिन्मय मधवाल के यहां चोरी की

इतने सुरक्षित इलाके में लगातार हो रही चोरी की वारदातों के बाद जब जांच शुरू हुई तो cctv फुटेज से इस गैंग की पोल खुली. पुलिस ने बताया कि यह गैंग आर्मी ऑफिसर्स के घर से महंगी घड़ियां, जूते, कैमरा, एलईडी, गहने और कैश चोरी करते थे. पुलिस ने बताया कि आरोपियों के पास से चोरी का काफी सामना बरामद भी हुआ है.

Loading...
loading...
error: Copy is not permitted !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com