हरियाणा में आज पेट्रोल पंपों में जारी है हड़ताल, जानिए कहां मिल रहा पेट्रोल और डीजल

हरियाणा में आज पेट्रोल पंपों में हड़ताल है। पानीपत में सुबह छह बजे से जिले में 137 पेट्रोल पंप बंद रहे। स्काईलार्क, असंध रोड सहित शुगर मिल के तीन सरकार पेट्रोल ही चालू रहे। इन पर पेट्रोल डलवाने वालों की लाइन लगी रही। पेट्रोलियम डीलर वेल्फेयर एसोसिएशन के प्रदेश प्रधान संजीव चौधरी ने बताया कि वे लगातार पेट्रोल पंपों पर नजर रख रहे हैं। उनकी आटोमेशन सेल का डाटा भी लिया जाएगा। यदि कोई पंप तेल बेचता मिला तो उस पर जुर्माना लगाया जाएगा। 12 घंटे तक हड़ताल रहेगी। इस दौरान पेट्रोल पंपों ने कंपनियों से कोई तेल खरीद नहीं की है।

पानीपत में यहां मिल रहा तेल

पानीपत में स्काई लार्क, गोहाना रोड पर शुगर मिल और असंध रोड पर नहर के नजदीक कंपनी टू कंपनी चलने वाले पेट्रोल पर तेल मिल रहा है। यहां पर लोगों की लाइन लगी हुई है। वैसे शाम को छह बजे के बाद सभी पंपों पर तेल मिलना शुरू हो जाएगा।

कैथल में 150 पेट्रोल पंप बंद

कैथल के 150 से अधिक पेट्रोल पंप संचालक सोमवार से 24 घंटे की हड़ताल पर जाएंगे। यह हड़ताल पेट्रोल पंप डीलर वेलफेयर एसोसिएशन द्वारा पेट्रोल व डीजल पर एक्साइज ड्यूटी व वैट घटाने की मांग पर की जाएगी। इस दौरान केवल हड़ताल के दौरान पुराना बस स्टैंड स्थित सरकारी पेट्रोल पंप पर पेट्रोल व डीजल मिलेगा। बता दें कि हड़ताल से एक दिन पहले ही पेट्रोल पंपों पर वाहन चालकों की भीड़ जुटी थी। जिसके बाद पेट्रोल पंपों पर पेट्रोल व डीजल की बिक्री बढ़ी थी।

पेट्रोल पंप एसोसिएशन से मिले आंकड़ों के अनुसार जिले में स्थित एक पेट्रोल पंप पर 1500 लीटर पेट्रोल व 2500 लीटर डीजल की बिक्री होती है। ऐसे में हड़ताल के चलते तेल की बिक्री नहीं होगी। बता दें कि हड़ताल की सूचना के चलते अपने वाहनों पर पहले की अपेक्षा अधिक पेट्रोल व डीजल अधिक खरीदा। पेट्रोल पंप संचालकों के प्रदर्शन की अगुआई एसोसिएशन के जिला प्रधान पूर्णचंद गुप्ता कर रहे।

पिछले चार सालों में तेल के बढ़े दाम, नहीं हुआ कमीशन

एसोसिएशन के जिला प्रधान पूर्णचंद गुप्ता ने बताया कि सरकार द्वारा पिछले चार सालों में पेट्रोल व डीजल के दाम बढे हैंं, लेकिन उनकी कमीशन में कोई बदलाव नहीं हुआ है। दाम के मुताबिक उनकी कमीशन में बढ़ोतरी की जानी चाहिए। परंतु सरकार व कंपनी लगातार इसे घटा रही है। पिछले कई महीनों से पेट्रोल पंपों पर एक्साइज ड्यूटी व वैट बढ़ा रही है। इस वेट से ग्राहकों को नुकसान तो है ही, बल्कि पेट्रोल पंप संचालकों को ही काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है। उन्होंने सरकार से आग्रह किया कि वह अाम जनता और पेट्रोल पंप संचालकों को देखते हुए वेट और एक्साइज ड्यूटी को और घटाना चाहिए।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 − fifteen =

Back to top button