HDFC बैंक में खुलवाइए सुकन्या समृद्धि अकाउंट: जानिए मिलने वाले ब्याज और टैक्स बेनिफिट्स के बारे में

 देश में निजी क्षेत्र का सबसे बड़ा बैंक एचडीएफसी बैंक सुकन्या समृद्धि खाता (एसएसए) खोलने की सुविधा देता है, जिसके अंतर्गत एक वित्त वर्ष के भीतर 1.50 लाख रुपये तक की टैक्स बचत को क्लेम किया जा सकता है। साथ ही इसमें जोखिम रहित आकर्षक रिटर्न भी मिलता है।
सुकन्या समृद्धि अकाउंट या योजना एक ऐसी खास स्कीम है जिसकी शुरुआत नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने गर्ल चाइल्ड को लाभ उपलब्ध करवाने और उसे भविष्य को आर्थिक रुप से सक्षम बनाने के इरादे से की गई थी। सुकन्या समृद्धि अकाउंट में किए गए निवेश पर लड़की के कानूनी रुप से अभिभावक या उनके वास्तविक माता पिता इनकम टैक्स बेनिफिट के लिए क्लेम कर सकते हैं।
HDFC बैंक के सुकन्या समृद्धि अकाउंट के फीचर और अन्य बेनिफिट्स:

Loading...

एचडीएफसी सुकन्या समृद्धि अकाउंट की योग्यता: सभी भारतीय अभिभावक या कानूनी रुप से अभिभावक अपनी बच्ची के नाम पर सुकन्या समृद्धि अकाउंट को एचडीएफसी बैंक में खुलवा सकते हैं। यह खाता 2 वर्ष की बच्ची से लेकर 10 वर्ष की बच्ची तक के लिए खुलवाया जा सकता है। एचडीएफसी बैंक के मुताबिक केवल उसी सूरत में तीन सुकन्या समृद्धि अकाउंट खुलवाए जा सकते हैं जब फर्स्ट बॉर्न या सेकेंड बॉर्न में ट्विन बच्चे (लड़की) पैदा हुए हों।
एचडीएफसी के सुकन्साय समृद्धि अकाउंट के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट: एचडीएफसी बैंक में सुकन्या समृद्धि अकाउंट खुलवाने के लिए अगर बेसिक डॉक्यूमेंट की बात करें तो सुकन्या समृद्धि अकाउंट का फॉर्म, लाभार्थी का जन्म प्रमाण पत्र, अभिभावक के पते का प्रमाण पत्र और अभिभावक का आईडी प्रूफ।
एचडीएफसी के सुकन्या समृद्धि अकाउंट पर मिलने वाली ब्याज दर: एचडीएफसी बैंक मुताबिक सुकन्या समृद्धि अकाउंट पर मिलने वाली ब्याज दर 8.6 फीसद की होती है। यह ब्याज दर 1 अक्टूबर 2018 से 31 दिसंबर 2018 तक खोले गए अकाउंट्स पर उपलब्ध है।
एचडीएफसी के सुकन्या समृद्धि अकाउंट पर इनकम टैक्स बेनिफिट्स: बच्ची के कानूनी रुप से माता-पिता या लड़की के वास्तविक माता पिता एक वित्त वर्ष के दौरान इस खाते में निवेश पर 1.5 लाख रुपये तक की टैक्स छूट क्लेम कर सकते हैं। इस खाते में जमा राशि पर मिलने वाला ब्याज और मैच्योरिटी पर मिलने वाली राशि दोनों टैक्स फ्री होती हैं।
एचडीएफसी के सुकन्या समृद्धि अकाउंट डिपॉजिट: सुकन्या समृद्धि अकाउंट में न्यूनतम 250 रुपये का निवेश और एक वित्त वर्ष के दौरान अधिकतम 1.50 लाख रुपये का निवेश किया जा सकता है।
एचडीएफसी के सुकन्या समृद्धि अकाउंट का लॉक इन पीरियड: सुकन्या समृद्धि अकाउंट योजना में 21 वर्ष का लॉक इन पीरियड होता है। यह अवधि खाता खुलवाए जाने के समय से गिनी जाती है। सुकन्या समृद्धि खाते को उस सूरत में आगे भी जारी रखा जा सकता है जब लड़की की शादी 21 वर्ष से पहले करवा दी गई हो।
एचडीएफसी के सुकन्या समृद्धि अकाउंट से निकासी: सुकन्या समृद्धि अकाउंट के पूरे कॉर्पस को 21 वर्ष का लॉक इन पीरियड पूरा होने के बाद ही निकासी की अनुमति मिलती है।
एचडीएफसी के सुकन्या समृद्धि अकाउंट से आंशिक निकासी: सुकन्या समृद्धि अकाउंट से बच्ची को आंशिक निकासी की भी सुविधा मिलती है। यह राशि बच्ची की उच्च शिक्षा और उसकी शादी के लिए निकाली जा सकती है, लेकिन बच्ची के 18 वर्ष का होने के बाद।
एचडीएफसी के सुकन्या समृद्धि अकाउंट को मैच्योरिटी पूर्व बंद करवाना: सुकन्या समृद्धि अकाउंट को मैच्योरिटी से पहले भी बंद करवाया जा सकता है। यह बच्ची की शादी होने और बच्ची की नागरिकता बदले जाने की सूरत में हो सकता है। लेकिन इस सूरत में खाते को 5 वर्ष पूरे होने चाहिए।

Loading...
loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com