इस वजह से यहां महिलाएं 3 महीने के लिए हो जाती है विधवा, वजह जानकर होंगे हैरान

- in ज़रा-हटके
भारतीय महिलाओं के लिए तो पति ही परमेश्वर है। भारत में महिलाएं अपने पति की दीर्घायु के लिए न जाने कितने व्रत रखती हैं। यह प्रथा आज से नहीं बल्कि पौराणिक काल से चली आ रही है। भारत में नारियां अपने सुहाग के लिए सौलह श्रंगार करती है पर आपको जानकर हैरानी होगी भारत में एक ऐसी जगह है जहाँ महिलाएं अपने पति की दीर्घायु के सालभर में तीन महीने विधवाओं के जैसे रहती हैं। 
तीन महीने तक रहती है विधवा:
इस प्रथा के अनुसार महिलाएं अपने सुहाग की लम्बी आयु के लिए तीन महीनों तक कोई श्रृंगार नहीं करतीं और विधवाओं जैसा कष्टभरा जीवन जीतीं हैं। उत्तर प्रदेश के दवरिया जिले के बेलवाड़ा में महिलाएं हर साल तीन महीने का मातम मानती है। 

इस अजीब चीज़ के मिलते ही होने लगे बुरे हादसे…

छाया रहता है मातम: 
इन तीन महीनों तक एक अजीब सी खामोशी पूरे गांव में पसरी रहती है और हर तरफ मातम का माहौल छाया रहता है। इस गांव में मई से जुलाई तक सन्नाटा और मातम सा पसरा रहा है।  महिलाएं अपने जीवित पति के मरने जैसा गम मानती है और एक-दूसरे का दुःख भी इस महिलाएं साझा करती है।
=>
=>
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

आखिर क्यों इसे गाने को सुनते ही लोग कर लेते हैं सुसाइड?

कुछ गाने ऐसे होते हैं जो हमारे फेवरेट