Home > अपराध > पिता ने अपने ही बेटी को बनाया हवस का शिकार, कुकर्म पिता को फांसी देने की मांग

पिता ने अपने ही बेटी को बनाया हवस का शिकार, कुकर्म पिता को फांसी देने की मांग

बिहार के नालंदा जिला में एक बेटी ने अपने पिता पर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है. रिश्ते को शर्मसार कर देने वाली घटना बिहार शरीफ के लहेरी थाना इलाके के लहेरी मोहल्ला की है. पीड़िता की शिकायत पर महिला थाना पुलिस ने भाग रहे आरोपी को गिरफ्तार कर लिया.पिता ने अपने ही बेटी को बनाया हवस का शिकार, कुकर्म पिता को फांसी देने की मांग

पीड़ित किशोरी का आरोप है कि उसकी मां दूसरे के घर में चौका-बर्तन का काम करती है. इस कारण वह अक्सर दिन में घर से बाहर रहती है. इसी का फायदा उठाकर उसके पिता दिन के उजाले में आकर अक्सर उसके साथ दुष्कर्म करता था. मगर इज्जत जाने की डर से वह इस बात को किसी को नहीं बता रही थी.

पीड़िता ने बताया कि बीती रात भी जब उसका पिता घर पहुंचा तो उसे अकेली पाकर पुनः दुष्कर्म करना चाहा. मगर इसबार वह चीखने चिल्लाने लगी. किशोरी की शोर सुनकर आसपास के लोग इकठ्ठा हो गए. लोगों के इकठ्ठा होने पर वह उसे छोड़ दिया, जिसके बाद पीड़िता ने लोगों से आपबीती बतायी. इसके बाद लोग पीड़िता को लेकर महिला थाना पहुंचे, जहां उसने अपने पिता के खिलाफ मामला दर्ज कराया.

मामला दर्ज होते ही महिला थाना पुलिस त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. एसपी सुधीर कुमार पोरिका ने बताया कि पीड़िता के बयान पर प्राथमिकी दर्ज की गई है. आरोपी को कोर्ट में पेश किया जाएगा.

वायरल हुआ लड़की का अश्लील वीडियो तो लड़की ने उठाया यी बड़ा कदम

इस घटना से किशोरी इतनी डरी सहमी है कि वह अपने पिता को देखना नहीं चाहती है. इस कुकर्म के लिए पिता को फांसी देने की मांग कर रही है. उसने कोर्ट से मांग की है कि उसके पिता को फांसी से भी बढ़कर कोई सजा हो तो दे, ताकि कभी कोई बाप अपनी बेटी के साथ ऐसी घटिया हरकत करने से पहले सौ बार सोचे.

 
Loading...

Check Also

निकाय चुनाव : विधानसभा चुनाव में दिया वोट, लेकिन इस बार वोटर लिस्ट से पूरे परिवार का नाम गायब

निकाय चुनाव : विधानसभा चुनाव में दिया वोट, लेकिन इस बार वोटर लिस्ट से पूरे परिवार का नाम गायब

उत्तराखंड नगर निकाय चुनाव के लिए राज्यभर में हो रहे मतदान में आज जिला प्रशासन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com