पिता ने झाड़ियों में फेंका नवजात का शव

- in अपराध
सैनवाला के समीप तीन माह की दुधमुंही बच्ची को झाड़ियों में फेंकने के बाद अब नाहन में मानवता शर्मसार हुई है। यहां एक पिता ने वक्त न होने की वजह से मृत नवजात बच्ची को दफनाने के बजाय झाड़ियों में फेंक दिया।

 

निरंकारी मिशन के अनुयायियों को सफाई करते समय नवजात का शव मिला। पुलिस ने पिता के खिलाफ आईपीसी की धारा 317 के तहत मामला दर्ज किया है। 

जानकारी के अनुसार पुलिस मौके पर पहुंची और छानबीन शुरू की। अस्पताल के स्टाफ को भी मौके पर बुलाया गया। वहां तैनात नर्सों ने शव को पहचान लिया और पुलिस चंद ही घंटे में शव फेंकने वाले तक पहुंच गई। छानबीन के बाद खुलासा हुआ कि अस्पताल में एक प्रवासी महिला ने मृत बच्ची को जन्म दिया था।

महिला के पति ने खुद यह शव झाड़ियों में फेंका था। महिला के पति रामधुन ने पूछताछ के दौरान इस बात को स्वीकार भी किया है। रामधुन ने दलील दी कि उसकी पत्नी की हालत सही नहीं है। मृत बच्ची को दफनाने जाता तो काफी वक्त लग जाता।

शिक्षिका के साथ छात्र ने किया ये गन्दा काम

उसे खून की भी जरूरत थी। लिहाजा, उसने झाड़ियों में शव फेंक दिया। पुलिस ने रामधुन के बयान कलमबद्ध किए। उसके बाद इसे दफनाने की प्रक्रिया शुरू की गई।

उधर, इस मामले से कुछ समय के लिए अस्पताल में अफरातफरी मची रही। एसपी रोहित मालपानी ने बताया कि पुलिस ने नवजात का शव फेंकने वाले के खिलाफ आईपीसी की धारा 317 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

प्री मेच्योर डिलिवरी हुई थी
अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. केके पराशर ने बताया कि महिला की प्री मेच्योर डिलिवरी हुई थी। बुधवार को प्रसव हुआ और वीरवार सुबह उसे नवजात का शव सौंप दिया गया।

 

You may also like

देवर को भाभी से संबंध बनाना पड़ा महंगा, भाभी ने काट लिया….अंग

दुनियाभर से ना जाने कितने ही अपराध की