त्रिपुरा के सीएम को डायना हेडेन ने दिया जवाब, ‘मुझे अपने रंग पर गर्व है

- in बड़ी खबर, मनोरंजन

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्‍लब कुमार देब ने विश्‍व सुंदरी रह चुकी डायना हेडेन की सुंदरता पर विवादित बयान दिया. ऐसे में अब विश्व सुंदरी रह चुकी डायना ने भी विप्‍लब देव को जवाब दिया है. डायना ने गोरे रंग को बेहतर समझने वाली सोच की आलोचना करते हुए कहा कि उन्हें उनके विदेशी दिखने वाले भूरे रंग पर गर्व है. दरअसल, बिप्लब कुमार देब ने अपने बयान में डायना हेडन को 21 साल पहले ‘मिस वर्ल्ड’ बनाए जाने को लेकर सवाल किया था. उन्होंने कहा कि, ‘जिसने भी अंतरराष्ट्रीय सौंदर्य प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया, जीतकर लौटा. लगातार पांच सालों तक, हमने मिस वर्ल्ड/मिस यूनिवर्स के ताज जीते. डायना हेडन भी जीत गईं. क्या आपको लगता है कि उन्हें ताज जीतना चाहिए था?’

त्रिपुरा के सीएम को डायना हेडेन ने दिया जवाब, 'मुझे अपने रंग पर गर्व है

देब ने अपने बयान में कहा था, “हम महिलाओं में देवी लक्ष्मी, सरस्वती को देखते हैं. ऐश्वर्या राय भारतीय सुंदरता का प्रतिनिधित्व करती हैं. विश्व सुंदरी प्रतियोगिता में उन्हें चुना जाना ठीक है. लेकिन मुझे डायना हेडेन की सुंदरता समझ में नहीं आई.”

‘मुझे मेरे भूरे रंग के कारण बहुत कुछ सहना पड़ा’
ऐसे में मुख्‍यमंत्री के बयान पर पलटवार करते हुए न्‍यूज एजेंसी आईएएनएस के अनुसार डायना ने अपने बयान में कहा, “मेरे विश्व सुंदरी प्रतियोगिता जीतने की यह दृढ़ अस्वीकृति है.” उन्होंने कहा, “मेरे विश्व सुंदरी प्रतियोगिता जीतने के संबंध में, यह कितने दुख और शर्म की बात है कि जब दुनिया की सबसे बड़ी और सबसे अधिक सम्मानित सौंदर्य प्रतियोगिता जीतने पर आपकी आलोचना होती है तथा देश का नाम ऊंचा करने पर प्रशंसा करने और सम्मान देने तथा भारतीय सुंदरता की प्रशंसा करने की अपेक्षा नीचा दिखाया जाता है. इससे दुख होता है.”

2019 में पीएम मोदी ने जिनपिंग को दिया भारत आने का न्योता, कहा- होती रहेगी ऐसी मुलाकात

डायना ने कहा, “उन्हें भूरे रंग का होने के कारण, भारत में ‘हल्का रंग अच्छा होता है’ की सोच से लड़ना पड़ा था. मैं इसके बारे में इतनी दृढ़ थी कि मैंने एक सौंदर्य विज्ञापन को सिर्फ इसलिए मना कर दिया, क्योंकि यह मेरे विश्वास के खिलाफ था. हम भारतीयों का रंग मुख्य रूप से भूरा होता है और हमें इस पर गर्व होना चाहिए और इसका सम्मान करना सीखना चाहिए जैसा दुनिया भर में किया जाता है.” उन्होंने कहा, “उन्हें जरूर हमारे रंग का अंतर दिख रहा होगा, तभी उन्होंने मेरी तुलना ऐश्वर्या से की ना कि प्रियंका चोपड़ा या वर्तमान विश्व सुंदरी मानुषी छिल्लर से. उन पर शर्म आती है, क्योंकि मुझे अपने सुंदर, विदेशी दिखने वाले भूरे रंग पर गर्व है. मैं आश्वस्त हूं.’

हालांकि बिप्‍लव देव अपने इस बयान के बाद माफी भी मांग चुके हैं. उन्‍होंने कहा कि वह दरअसल फैशन इंडस्‍ट्री और उसके काम करने के तरीके पर अपना बयान दे रहे थे और वह किसी को आहत नहीं करना चाहते थे.

 

बॉलीवुड को आया गुस्‍सा 
सिर्फ डायना ही नहीं, उनके खिताब पर उठाए गए सवालों पर बॉलीवुड में भी कई लोगों ने नकारात्‍मक प्रक्रिया दी है. फिल्म निर्देशक शिरीश कुंदर ने कहा, “क्या लारा दत्ता (ब्रह्मांड सुंदरी 2000) भारतीय संदरता का प्रतिनिधित्व करती हैं? (सिर्फ उन्हें भ्रमित करने के लिए.)” फिल्म निर्माता अशोक पंडित ने ट्वीट किया, “त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब के डायना हेडेन पर दिए गए गैर जिम्मेदाराना बयान की मैं निंदा करता हूं. उन्हें इसका एहसास होना चाहिए कि विश्व सुंदरी बनने के लिए बहुत कठिन परिश्रम करना पड़ता है. उन्होंने डायना हेडेन का नहीं पूरे महिला समाज का अपमान किया है.”

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

Stree के सुपरहिट होने पर बोले राजकुमार, ‘स्टारडम’ बनाता है प्रेशर

राजकुमार राव की फिल्म ‘स्त्री’ बॉक्स ऑफिस पर