2019 लोकसभा चुनाव में NCP का साथ मिलने से महाराष्ट्र में कांग्रेस का किला हुआ मजबूत

महाराष्ट्र में पिछले विधानसभा चुनाव अपने दम पर लड़ चुकी एनसीपी अब 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस से गठबंधन करने की तैयारी में है।

2019 लोकसभा चुनाव में NCP का साथ मिलने से महाराष्ट्र में कांग्रेस का किला हुआ मजबूतएनसीपी सुप्रीमो शरद पवार ने कहा है कि कांग्रेस के साथ मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ेंगे। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से गठबंधन को लेकर वह दो बार चर्चा कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि आगामी 29 जनवरी को दिल्ली में विपक्षी दल के साथ बैठक करेंगे और बीजेपी के खिलाफ लड़ाई की रणनीति तय करेंगे।

शुक्रवार को जहां देश गणतंत्र दिवस मना रहा था वहीं, देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में विपक्षी दल की ओर से संविधान बचाओ मार्च निकाला गया। इस मार्च में वामपंथी दलों के नेता समेत कई विपक्षी नेता एक मंच पर आए और उन्होंने लोकसभा चुनावों से करीब एक साल पहले बीजेपी के खिलाफ अपनी एकजुटता प्रदर्शित की। इस दौरान पवार ने कहा कि समान विचारधारा वाले दल के साथ संविधान बचाने के लिए रैली निकालने का सामूहिक फैसला किया था। 

उन्होंने कहा, अगर हम इसके खिलाफ अपनी आवाज नहीं उठाएंगे तो यह राष्ट्र और संविधान के लिए नुकसानदेह होगा। 

संविधान बचाओ मार्च में पवार के अलावा माकपा नेता सीताराम येचुरी, जदयू से निष्कासित शरद यादव, भाकपा के डी राजा, गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल, तृणमूल कांग्रेस के दिनेश त्रिवेदी, कांग्रेस के सुशील कुमार शिंदे, प्रफुल्ल पटेल, डीपी त्रिपाठी, पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण और राज्य के अन्य कई नेताओं ने हिस्सा लिया। 

विपक्ष के जवाब में भाजपा की तिरंगा यात्रा
गणतंत्र दिवस के मौके पर संविधान बचाओ के नारे के साथ निकाली गई विपक्ष के मार्च के जवाब में भाजपा ने तिरंगा यात्रा निकाली। पार्टी ने इसे   ‘संविधान सम्मान’ रैली का नाम देकर विपक्ष को जवाब देने की कोशिश की। सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने आरोप लगाया कि पार्टियां संविधान की आड़ में अपनी नाकामियां छिपाने के लिए ड्रामा कर रही हैं। 

 
Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button