CM योगी ने नोयडा DM को लगायी लताड़, अब पद से भी हटाया

प्रमुख संवाददाता

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज नोयडा का दौरा किया और अधिकारियों से कोरोना वायरस को लेकर किये जा रहे कामों की जानकारी ली। मुख्यमंत्री कल गाज़ियाबाद, मेरठ और आगरा में अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। कोरोना संक्रमण को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ ने नोयडा के जिलाधिकारी ने कड़ी फटकार लगाईं है।
डीएम ने मुख्यमंत्री से कहा कि वह 18-18 घंटे तक काम कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने डीएम से कहा कि अगर वह गंभीरता से काम कर रहे हैं तो फिर एक ही फैक्ट्री से इतनी बड़ी संख्या में लोग संक्रमित हो गए और डीएम ने कोई एक्शन ही नहीं लिया।
उन्होंने कहा था, ‘आप लोग बकवास बंद कीजिए, आपकी बकवास ने ही यहां के हालात खराब किए हैं,’ इसके बाद डीएम बीएन सिंह ने मुख्य सचिव को पत्र लिखते हुए तीन महीने की छुट्टी पर जाने की बात लिखी है।
उधर देर शाम योगी ने कड़े तेवर दिखाते हुए  डीएम का तबादला कर दिया है और विभागीय कार्रवाई की बात कही गई है, बीएन सिंह की जगह सुभाष एलवाई को नोएडा का नया डीएम नियुक्त किया गया है।
इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की फटकार के बाद डीएम बीएन सिंह ने मुख्य सचिव को चिट्ठी लिखकर कहा कि मुझे तीन महीने की छुट्टी पर भेज दिया जाए।
अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने 35 लाख दिहाड़ी मजदूरों को 611 करोड़ रुपये की सहायता उपलब्ध करा दी है। उन्होंने बताया कि 5761 औद्योगिक इकाइयों से सरकार ने मजदूरों को लेकर बात की है। मुख्यमंत्री के सूचना पोर्टल पर मिली सभी शिकायतों का सरकार ने निराकरण कर दिया है।

प्रमुख सचिव चिकित्सा ने बताया कि प्रदेश में 8 प्रयोगशालाओं में कोरोना वायरस को लेकर लगातार टेस्टिंग चल रही है। उत्तर प्रदेश में अब तक संक्रमण के 88 मामले सामने आये हैं जिनमें से 14 लोग ठीक हो चुके हैं।

Noida: Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath holds a meeting with the officials of Gautam Buddh Nagar. #Coronavirus https://t.co/fv34PUy4r8 pic.twitter.com/AT63v7JBhU
— ANI UP (@ANINewsUP) March 30, 2020

उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा 36 मामले गौतमबुद्ध नगर में और दूसरे नंबर में मेरठ में संक्रमित होने वाले मरीज़ मिले हैं। मेरठ में 13 मरीज़ मिले हैं। गौतम बुद्ध नगर में मिले 36 संक्रमित लोगों में से 31 लोग एक ही फैक्ट्री में कार्य करने वाले थे।
उन्होंने बताया कि जहाँ भी कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज़ मिलता हैं वहां पर मरीज़ के रहने के एक किलोमीटर इलाके पर स्वास्थ्य विभाग ख़ास नज़र रखता है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button