काला जादू के चक्कर में मां-बेटी के मुंडवाए सिर, पिलाया मैला

- in अपराध

झारखंड की राजधानी रांची के सोनाहातू थाना क्षेत्र के बोंगादार-दुलमी गांव में जादू-टोना के चक्कर में सनसनीखेज घटना हुई है. यहां जादू-टोना के आरोप में एक मां और उसकी बेटी के सिर मुंडा दिए गए. उन्हें मैला पिलाया गया. इसके बाद श्मशान ले जाकर उनके साथ बदसलूकी की गई. पुलिस इस मामले की जांच कर रही है.

पुलिस के अनुसार, एक दर्जन से अधिक ग्रामीणों ने 65 साल की महिला और उसकी 35 साल की बेटी का गुरुवार रात सिर मुंडवा दिया. पीड़ितों ने आरोप लगाया कि उन्हें एक नदी के पास खींच कर ले जाया गया, जहां उनके सिर मुंडा दिए गए. उन्हें सफेद साड़ियां पहनने और सेप्टिक टैंक का पानी पीने के लिए मजबूर किया गया.

17 साल के छात्र से शारीरिक संबंध बनाने वाली महिला टीचर को कोर्ट ने नहीं दी सजा, फिर जो हुआ…

ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि दोनों काला जादू करती हैं. इस घटना के बाद से दोनों महिलाएं काफी डरी हुई हैं. मां-बेटी को लेकर मामा के घर ईचागढ़ के पीलित गांव गईं. वहां ममेरे भाई ने दोनों को समझाया. हिम्मत दिलाई. इसके बाद डरी-सहमी मां-बेटी सोनाहातू थाना पहुंची और पुलिस को पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी.

बुंडू डीएसपी केवी रमन के निर्देश पर सोनाहातू और राहे पुलिस ने तत्काल कार्रवाई की है. पुलिस ने 11 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है. देर शाम गांव में छापेमारी की और सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. दरअसल आरोपियों के परिवार में तीन फरवरी को एक महिला झरी देवी की मौत हो गई थी.

झारखंड में पिछले 15 सालों में 700 महिलाओं को डायन बताकर मौत के घाट उतारा जा चुका है. इससे पहले पश्चिमी सिंहभूम जिले के ठकुरा गांव में एक अंधविश्वासी युवक ने जाटू-टोने के चक्कर में अपने ही भाई-भाभी को मौत की नींद सुला दिया. उसने अपने भतीजे के साथ मिलकर बड़े भाई और भाभी की हत्या कर दी.

इसके बाद 24 घंटे तक दोनों के शव को घर में ही रखे रहा. अगले दिन झाड़ियों में फेंक दिया. 30 वर्षीय शारदा चम्पिया ने अपने भतीजे 15 वर्षीय प्रधान चम्पिया के साथ मिलकर बड़े भाई 50 वर्षीय सुखराम चम्पिया और 45 वर्षीय प्यारी चम्पिया की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी. शारदा चम्पिया के बेटे की बीमारी से मौत हो गई थी.

बेटे की मौत के बाद ग्रामीणों ने बताया कि उसकी भाभी डायन है. उसी के कारण उसके बेटे की मौत हुई है. इसके बाद रविवार को घर में झगड़ा हुआ. गुस्से में उसने भाभी की हत्या कर दी. भाभी की हत्या करने के बाद बीच-बचाव कर रहे उसके पति सुखराम की भी हत्या कर दी. आरोपियों ने हत्या करने के बाद शव को घर में ही पूरे दिन रखा.

You may also like

बेटी के पति पर आया सास का दिल, फिर उसके बच्चे की मां बनने के लिए कर डाला ये सब…

मप्र में जनसुनवाई के दौरान रिश्तों को कलंकित