BARABANKI NEWS UPDATES : यहां देखिए अपने जिले की हर छोटी से बड़ी खबर

शौचालयों के नाम पर किया गया भ्रष्टाचार, जिम्मेदार बने मौन
त्रिवेदीगंज – बाराबंकी। जिले के ब्लाक त्रिवेदीगंज क्षेत्र के ग्राम पंचायत कोलहदा के जगपुरवा गांव में प्रधान की लापरवाही से मासूम की जान बाल-बाल बची। ग्राम प्रधान द्वारा लोगों को सरकारी योजनाओं का लाभ देने के लिए रुपयों कि मांग की जा रही है। सरकारी योजनाओं को ग्राम प्रधान ने अपना बिजनेस बना रखा है। ग्रामीणों को सरकारी योजनाएं पाने के लिए पहले प्रधान की जेब भरनी पड़ती है। अगर जेब गरम तो काम पक्का, अगर जेब ना भरी तो काम नहीं किया जाएगा। पूरे गांव में विकास के नाम पर खानापूर्ति की गई है और ग्राम प्रधान व अधिकारियों की मिलीभगत से सिर्फ कागजों पर विकाश किया गया है।जबकि प्रधान द्वारा जो भी कार्य किया है वो भी टिकाऊ नहीं है। और मानक विहीन तरीके से कार्यों को करवाया गया है। अगर जमीनी हकीकत देखी जाए तो गांव में विकास के नाम पर कुछ भी नहीं किया गया है,न खण्डजा,न शौचालय,और न तो नल ही लगवाया गया है। जहां एक तरफ सूबे कि सरकार स्वच्छ भारत मिशन के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में साफ सफाई को लेकर विशेष ध्यान दे रही है। तो वहीं बाराबंकी जनपद के त्रिवेदीगंज छेत्र के ग्राम पंचायत कोलहदा के ग्राम प्रधान के द्वारा खुलेआम पलीता लगाया जा रहा है। सरकार की योजनाओं से आज भी बहुत सी ग्राम पंचायतों के ग्रामीण वांछित है।

ग्रामीणों का कहना है कि ग्राम प्रधान ने कुल 100 शौचालय बनवाये है किंतु इसमें से एक भी शौचालय सही नहीं है किसी शौचालय की छत नहीं तो कहीं छत के नाम पर पटरे रखे है। तो कहीं सीट नहीं तो कहीं दीवार नहीं।नाम मात्र का विकास करके प्रधान अपनी जेब भर रहे है।,उधर सरकारी योजनाओं का रुपया लेकर,इधर किसान से सरकारी योजनाओं को देने के नाम पर रुपया लेकर।प्रधान दोनों हाथों से जेब भरने में लगे हुए है। गावों का विकास हो या ना हो कागजों पर तो विकाश दिखाई दे रहा है।ग्रामीणों का कहना है कि हम लोग मरे या जिए इससे ग्राम प्रधान को कोई मतलब नहीं है प्रधान को तो सिर्फ पैसे चाहिए।वहीं गांव की ही महिला उर्मिला पत्नी राम मनोहर, किरन पत्नी लल्लन,सीमा पत्नी शिवकुमार,निर्मला पत्नी हरिओम,राम बरन गिरी व राम मनोहर ने बताया कि ग्राम प्रधान के द्वारा जो शौचालय निर्माण करवाए गए है वह पूरी तरह से निष्क्रिय पड़े हुए है।हैंडपंप के लगवाने के गड्ढा तो खुदवाया गया पर आज तक हैंडपंप नहीं लगवाया गया जब ग्रामीणों ने हैंडपंप लगवाने को कहा तो प्रधान ने पैसे की डिमांड कर दिया  जब ग्रामीणों ने पैसा नहीं दिया तो हैंडपंप नहीं लगवाया गया और ना ही उस गड्ढे को बंद किया गया।जो कि खुला पड़ा गड्ढा बड़ी घटना घटित होने की दावत दे रहा है।ग्रामीणों ने बताया कि बरसात के मौसम में गड्ढे में पानी भर जाता है जो कि छोटे बच्चो के लिए खतरनाक साबित हो रहा है कुछ दिन पूर्व उसी गड्ढे में एक बच्चा गिर गया था पास में लोगो के होने से बड़ी घटना घटते घटते बची कहीं प्रधान की लापरवाही इन मासूम बच्चो को न चुकानी पड़े।
प्रधान की बेशर्मी तो तब सामने आयी जब किसानों से रूपये लेकर भी काम नहीं किया।नल बनवाने को कहा और गड्डा भी खुदवाया किंतु जब किसान ने रुपया नहीं दिया तो उस गड्डे को खुला छोड़ दिया।इस गड्डे में एक मासूम गिरने से बचा।बारिश के दिनों में ये गड्डा और खतरनाक हो सकता है।किंतु प्रधान के काम पर जूं ना रेंग रही।प्रधान की एक और विकास बेशर्मी सामने आयी।जिन किसानों से रुपये लेकर शौचालय बनवाये उसकी भी दीवार आंधी में गिर गई,दीवार गिरने से एक बच्चा नीचे आने से बाल- बाल बचा।आंधी मे शौचालय पर छत के नाम पर रखे पटरे उड़ गए।किसानों का जीवन तो ऐसा हो गया है,कि सरकारी योजनाएं ले तो जान पर बनी है ना ले तो भी जान पर बनी।
ग्रामीणों का आगे कहना है कि शौचालय को लेकर जब कोई जांच करने आता है उसे एक शौचालय दिखाकर वापस भेज देते है यदि हम लोग उस जांच अधिकारी से शिकायत करना चाहे तो गाली-गलोच पर आ जाते है।ऐसे में सरकार से ग्रामीणों का निवेदन है कि हम किसानों को जो सुविधाएं दे उसकी एक बार प्रत्येक किसान को मिलने वाली योजना की जांच अवश्य करवाए जिससे किसानों को उनका हक मिले,ऐसे एक-दो की जांच करके ना जाए,प्रत्येक मिलने वाली सुविधा के पूर्ण होने पर उसकी जांच जरूर करवाए,नहीं तो इस योजनाओं के मिलने से कोई लाभ नहीं।वहीं जब पूरे मामले की जानकारी एडिओ पंचायत प्रमोद कुमार श्रीवास्तव से फोन पर लेनी चही तो एडीओ पंचायत का फोन नाटरीचबल जा रहा है।ऐसे में देखने वाली बात यह होगी कि क्या उच्चाधिकारी भ्रष्टाचार में लिप्त ग्राम प्रधान पर कार्यवाही करेंगे या नहीं।
मनचले युवक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, भेजा जेल
त्रिवेदीगंज – बाराबंकी। लोनी कटरा पुलिस ने आज एक अभियुक्त को मकनपुर तिराहे पर फल की दुकान के पास से गिरफ्तार किया है।थाना प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार यादव के नेतृत्व में एंटी रोमियों चेकिंग अभियान के दौरान दोपहर को थाना क्षेत्र अंतर्गत मकनपुर तिराहे पर फल की दुकान के पास से अभियुक्त संजय कुमार पुत्र राम नरेश निवासी किस्तीपुर तीरगांव थाना सतरिख जनपद बाराबंकी को मकनपुर तिराहे पर अपने काम से आने जाने वाली महिलाओं व लड़कियों पर अश्लील टिप्पणी करने व अश्लील  हरकत करते हुए गिरफ्तार किया गया।अभियुक्त संजय कुमार पर लोनी कटरा पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है। थाना प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार यादव ने बताया कि अभियुक्त संजय कुमार द्वारा मकनपुर तिराहे के पास अपने काम से आने जाने वाली महिलाओं व लड़कियों के साथ अश्लील टिप्पणी व अश्लील हरकत करते हुए पकड़ा गया है अभियुक्त पर मुकदमा पंजीकृत कर जेल भेजा गया है।
कस्बे में कोरोना का कहर जारी: 11 व्यक्ति निकले कोरोना पाजटिव
फतेहपुर- बाराबंकी। कस्बे में कोरोना महामारी ने जिस तरह से दस्तक दी है, उससे आम जनमानस की चिन्ता बढती ही जा रही है। नगर के मो0 काजीपुर वार्ड 3 में एक ही घर के नौ व्यक्ति व सीएससी हॉस्पिटल मे एक  और बैंक ऑफ इंडिया में एक व्यक्ति कोरोना पाॅजटिव पाये जाने से क्षेत्र में लगातार कोरोना का ग्राफ बढता जा रहा है ,स्वास्थ्यकर्मी के एक ही परिवार के करीब एक दर्जन लोग कोरोना पाॅजटिव पाये गये है।संक्रमण से बचाव एंव रोकथाम के लिए नगर पंचायत द्वारा कस्बे के प्रमुख स्थानों समेत विभिन्न सरकारी कार्यालयों को भी सेनेटाइज किया जा रहा है।
मालुम हो कि फतेहपुर कस्बे में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है, संक्रमण से बचाव के लिए प्रशासन द्वारा सभी प्रयास किए जा रहे है, किन्तु कस्बे में स्थित काजीपुर वार्ड में एक ही घर के 9 व्यक्ति सीएससी हॉस्पिटल में 1 तो वही मुंशीगंज बाजार के निकट बैंक ऑफ इंडिया में 1व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया गया, कस्बे में कोरोना पाजटिव मिलने का सिलसिला थमने का नाम नही ले रहा है। सूत्रों की माने तो वर्तमान समय में तहसील क्षेत्र मे करीब 82 कोरोना एक्टिव केस है। एक पखवारा पूर्व यह संख्या गिरकर 15 हो चुकी थी, वही तहसील क्षेत्र में 79 व्यक्ति होम आइसोलेशन में रखे गए हैं, तो तीन व्यक्ति हिंद हॉस्पिटल में अपना इलाज करा रहे हैं किन्तु अचानक बढे कोरोना ग्राफ से इस संख्या मे लगातार बढोत्तरी होती जा रही है कस्बे का मोहल्ला काजीपुर कोरोना संक्रमण मे टाप पर पहुंच चुका है, वही पर विगत दिनों एक मिष्ठान भंडार के पिता की कोरोना वायरस से मौत भी हो चुकी है, गौरतलब है एक ही परिवार के करीब एक दर्जन भर लोग कोरोना से संक्रमित पाये गये है, एक ही मोहल्ले मे इतने मरीज मिलना नगर मे चर्चा का विषय बना हुआ है। प्रशासन की टीम इस हाॅटस्पाट एरिया को सेनेटाइज करने के साथ ही लोगो को एहतियात बरतने की अपील करते देखा जा सकता है इसी क्रम में नगर पंचायत फतेहपुर कर्मचारी आफताब आलम के दिशा निर्देशन मैं कर्मचारियों द्वारा कस्बे के बैंक आफ इंडिया, काजीपुर वार्ड 3, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के साथ सार्वजनिक स्थानों को सेनिटाइज करते हुए आंशिक एरिया को सील किया गया है। इस दौरान प्रशासन द्वारा एकत्र लोगों से अपील की गई कि वह एक दूसरे से उचित दूरी जरूर बनाए रखे, जिससे कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सकता है, वहीं पर नगर पंचायत अधिशासी अधिकारी आदित्य प्रकाश ने बताया कि नगर पंचायत कर्मियों द्वारा नियमित रूप से बैक तहसील परिसर व अस्पताल आदि को सेनिटाइज करने का कार्य युद्ध स्तर पर किया जा रहा है|
बीस घंटे बाद मिला नदी में डूबे तीन युवकों का शव
मोहम्मदपुर खाला, बाराबंकी। रविवार थाना क्षेत्र के छेदा बेहड़ा चौरारी स्थित रपटा पुल पर तीन युवक नहाने के दौरान नदी में डूब कर बह गए आशीष पुत्र सीतराम ( 20) तथा सुरेंद्र मौर्य पुत्र ओमप्रकाश (25) तथा इसराइल पुत्र इब्राहिम (22) शव घटना के करीब 20 घंटे बाद सोमवार की सुबह मिला। सुबह करीब 7 बजे निलंमथनाघाट पुल से गांव के समीप शौच के लिए जा रहे ग्रामीणों ने एक शव को उतरते हुए देखा। जानकारी होते कुछ ही देर में ग्रामीणों का वहां जमावड़ा लग गया।उसे ग्रामीणों ने शव को बाहर निकाला।दूसरा इसराइल की लाश नीलमथना घाट स्थल से पांच सौ मीटर दूर नदी के किनारे मिला ग्रामीणों की मदद से शव को घाट से बाहर निकाला गया इस बीच परिजन भी मौके पर पहुंच गए।अपने बेटे का शव देख पिता इब्राहिम की आंखों के आंसू रोक नहीं पाए वहीं उसकी मां का भी रो-रोकर बुरा हाल था। जवान बेटे की मौत ने पूरे परिवार को सदमे में डाल दिया। मां बार-बार एक ही बात कहती रही काहे अब हम का करबे। हर कोई शोक संतप्त परिवार को ढांढस दिलाने में लगा था।
जानिए पूरा मामला घटना उस समय की है जब तीनों दोस्त बीते रविवार दोपहर एक बजे बेहड़ा रामपुर मथुरा मार्ग चौरारी रपटा पुल पर नहाने पहुंचे थे वहीं तीनों ने टूटी हुई रेलिंग के पोलो पर गमछा बांधकर नहा रहे थे इस बीच गमछा का संतुलन बिगड़ने के चलते तीनों युवक नदी के तेज बहाव में डूबते चले गए युवकों को डूबता देख आस पास के ग्रामीण दौड़े और मदद के लिए शोर मचाया लेकिन कुछ देर बाद तीनों युवक पानी मे लापता हो गये उन्हें तलाशने के लिए स्थानीय पुलिस और गोताखोरों ने देर रात तक तलाश की लेकिन युवकों का कोई पता नहीं चल सका।बडी मस्कत के बाद डूबे हुए युवकों का शव सोमवार को  घटना स्थल से दो किलोमीटर की दूर निलंठनाघाट के पास में ग्रामीणों ने उतराता हुआ देखा तो शव को बाहर निकाला गया शव की पहचान आशीष मौर्य पुत्र सीताराम (20) निवासी छेदा के रूप में की गई वहीं निवासी दूसरा  मृतक इसराइल पुत्र इब्राहिम (22) जबकि तीसरा सुरेंद्र पुत्र ओम प्रकाश (25) घटना स्थल से करीब पांच कि०मी० दूर तुरकौली पुल के किनारे लाश मिली पुलिस ने तीनों शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम हेतु जिला मुख्यालय भेज दिया। इस मौके पर थाना अध्यक्ष का मनोज कुमार शर्मा, चौकी प्रभारी अमर बहादुर सिंह भारी पुलिस बल मौजूद रहा।
कहीं भ्रष्टाचार की पोल ना खुल जाए…
सिरौलीगौसपुर, बाराबंकी। मनरेगा नियमों को दरकिनार करके कराए जा रहे विकास कार्य, मनरेगा कार्यों में किए जा रहे भ्रष्‍टाचार को छिपाने के लिए कार्यस्थल पर लगने वाले सूचना पटों पर बिना सूचना अंकित किए ही लगा दिए जाते हैं। कार्य पूरा होने के महीनों बीत जाने के बाद भी सूचना पट पर आवश्यक सूचना अंकित करना मुनासिब नहीं समझा जाता। यह स्थिति विकासखंड सिरौलीगौसपुर की ग्राम पंचायत खालसापुर की है। यहां लाखों रुपए खर्च कर किए गए मनरेगा के कार्यों खड़ंजा एवं चकमार्ग निर्माण स्थल पर जिम्मेदारों द्वारा सूचना पट तो लगाए गए हैं किंतु कहीं भ्रष्टाचार की पोल ना खुल जाए इसके चलते सूचना पटों पर कार्य से संबंधित सूचना को नहीं अंकित किया गया है। कार्य पूर्ण हुए महीनों बीत गए हैं किंतु उन तक इन कार्यों पर आज भी बिना सूचना अंकित किए ही लगे बोर्ड मनरेगा नियमावली को मुंह चिढ़ा रहे हैं। बताते चलें ग्राम खालसा से जलालाबाद तक जाने वाले डामरी कृत संपर्क मार्ग से इंटरलॉकिंग निर्माण फैक्ट्री तक लाखों रुपए खर्च कर करीब 200 मीटर खड़ंजा निर्माण कराया गया है। इस खड़ंजा निर्माण में जमकर भ्रष्टाचार किया गया है जिसके सबूत जगह जगह धस कर बिखरी ईंटें स्वयं दे रही हैं। यहां के ग्रामीणों ने बताया कि तीन-चार माह पूर्व खेतों के बीच में लगाया गया यह खड़ंजा सिर्फ ईट फैक्ट्री मालिक को ही लाभ पहुंचा रहा है। आबादी के बाहर खेतों के बीच लगे खड़ंजे से ग्रामीणों का कोई लेना देना नहीं है। खड़ंजे पर लगे बोर्ड पर कार्य पूरा होने के महीनों बाद ही आज तक खड़ंजा से संबंधित कोई सूचना अंकित नहीं की गई। इसी प्रकार नहर पटरी के किनारे बने चक मार्ग पर भी सूचना बोर्ड पर कोई सूचना अंकित नहीं की गई गांव में आबादी के बीच बरसात के पहले खोदे गए होली तालाब पर तो आज तक सूचना पट ही नहीं लगाया गया। जिससे इन कार्यों पर खर्च हुई सरकारी धन राशि का पता ग्रामीणों को नहीं चल पाता है जिससे इन कार्यों में भ्रष्टाचार को आसानी से छुपाया जा रहा है। इस संबंध में खंड विकास अधिकारी कमलेश कुमार ने बताया कि मनरेगा कार्य शुरू करने से पहले सूचना पट पर कार्य से संबंधित सारी सूचनाएं अंकित कर लगाया जाना चाहिए इस गांव में पट पर सूचनाएं अंकित ना होने की जानकारी मिली है इसकी जांच कराई जाएगी।
तीन चोरी की बड़ी वारदातों के बाद भी गंभीर नहीं पुलिस, रिपोर्ट तक नहीं हुई दर्ज
बड्डूपुर (बाराबंकी)। स्थानीय थाना क्षेत्र में बढ़ती चोरी की घटनाओं के प्रति पुलिस गंभीर नहीं है। बीते दस दिनों में हुई तीन चोरी की बड़ी वारदातों में अभी तक पुलिस खाली हाथ है। कई मामलों में पुलिस अभी तक रिपोर्ट तक दर्ज नहीं कर सकी है। चोरी की घटनाओं का खुलासा न होने से जहां चोरों के हौसले बुलंद हैं। वहीं ग्रामीणों में चोरी की बढ़ती घटनाओं से आक्रोश व्याप्त है।
केश- 13 अगस्त को बड्डूपुर थाना क्षेत्र के ग्राम ममरखापुर निवासी रामचन्द्र की किराने की दुकान में चोरों ने पीछे से नकब लगाकर 10 हजार की नकदी सहित कीमती सामान चोरी कर ले गए।जिसके बाद चोरों ने पास के ही वीरेंद्र के मकान से 5 हजार की नकदी सहित लाख रुपये से अधिक का सामान चोरी कर ले गए।वारदात के दस दिन से अधिक बीत जाने के बाद भी पुलिस चोरी का खुलासा तो दूर अभी तक रिपोर्ट तक दर्ज नहीं कर सकी है।
केश 2- 23 अगस्त को खिझना ग्राम प्रधान के मकान में चोर छत के रास्ते अंदर प्रवेश कर गए।अंदर पहुंचे चोरों ने अलमारी व बक्से का ताला तोड़ एक लाख की नकदी सहित करीब तीस लाख के जेवरात व अन्य कीमती सामान चोरी कर ले गए। वारदात के दस दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस अभी तक चोरी का खुलासा तो दूर सुराग तक नहीं लगा सकी है।
बड्डूपुर निवासी राम औतार का कहना कि सीतापुर जनपद से सीमा लगी होने के चलते अक्सर चोरी की वारदातें होती रहती है। लेकिन बड्डूपुर पुलिस इन चोरी की वारदातों के प्रति गंभीर नहीं है । पुलिस ज्यादातर चोरी की वारदातों का खुलासा तो दूर रिपोर्ट तक दर्ज नहीं करती। जिसके चलते चोरों के हौसले बुलंद रहते हैं ।वह एक के बाद एक कर बेख़ौफ़ होकर वारदातों को अंजाम दे रहे हैं।
 
The post BARABANKI NEWS UPDATES : यहां देखिए अपने जिले की हर छोटी से बड़ी खबर appeared first on Vishwavarta | Hindi News Paper & E-Paper.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button