BARABANKI NEWS: एक क्लिक में पढ़ें बाराबंकी की हर बड़ी खबर

एक घंटे में उफनाया नाला, वार्ड में जलभराव

बाराबंकी। नगर के बीच से गुजरने वाले जमुरिया नाला के उफनाने से कई वार्डो में जलभराव के साथ गंदगी का अम्बार लग गया है। जिसका कारण है शहर में आवासीय स्थलों में बेतादाद बढ़ोत्तरी होने से आबादी का बढ़ना। लेकिन जिम्मेदार जनप्रतिनिधियों ने इस समस्या को दरकिनार करते हुऐ, नाले से उत्पन्न हो रही समस्याओ पर चुप्पी ले रखी है। प्रत्येक वर्ष इस चार किलोमीटर के क्षेत्र में बसे दर्जनों वार्ड इस नाले के गंदे और बदबूदार पानी से उत्पन्न जलभराव और बीमारियों का शिकार हो रहे है। इस भीषण समस्या के खिलाफ कई सभासद प्रत्येक वर्ष आवाज़ उठाते है, लेकिन उनकी सुनने वाला कोई नहीं है।

विगतवर्षो की अपेक्षा यह साल इन वार्डो के निवासियों के लिये ज्यादा जानलेवा हो सकता है। क्योंकि वैश्विक महामारी अब प्रत्येक गली मोहल्ले में अपनी घुसपैठ कर चुकी है। एक घंटे की शुक्रवार दोपहर हुऐ बरसात ने नेहरू नगरवासियो के लिये सिरदर्द बन गयी ज़ब इतनी ही देर में उफनाए जमुरिया नाला का गन्दा पानी उनके गली मोहल्लो में जमा हो गया। मालूम हो की एक दशक से अधिक समय पूर्व हो चुका है ज़ब घोसियाना की तरफ मिनी बांध बना था। अगर उसी बांध को उचित ऊचाई देते हुऐ लखपेड़ाबाग तक बनाया गया होता, तो काफ़ी हद तक वार्डो में नाले के पानी की समस्या से बचा जा सकता था। सभासद मो. फैसल कहते है की नाले की सफाई ढंग से करते हुऐ कूड़ा उठवाया जाये, तो उनके वार्ड में यह स्थिति उत्पन्न नहीं होगी।

डीएम को सौपा ज्ञापन

बाराबंकी। पटेल डिग्री कॉलेज के पीछे स्थित पंचशील कालोनी के निवासी बीते दशक से जल भराव में जीने को मजबूर है। उक्त कालोनी में पानी निकासी का कोई ठोस इंतज़ाम नहीं होने से लोग बरसात में आपने ही घरो में कैद हो रहे है। पूर्व में बना नाला अवैध कब्ज़े से भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ चुका है। जिसका हल निकालना अधिकारियो के टेढ़ी खीर है।

नाला बनाया जाना प्रस्तावित है। जो मंडलायुक्त स्तर पर लंबित है। इस वजह से जलभराव की समस्या से यहां के निवासी जूझ रहे है। इन लोगो को कोरोना महामारी का भय सता रहा। अपनी समस्याओ को लेकर जिलाधिकारी को शुक्रवार को ज्ञापन सौपा गया। ज्ञापन देने वालों में अलोक वर्मा, मो। फैसल, रोहिताश्व दीक्षित, पंकज मिश्रा, कमल कुमार, सादिक हुसैन और कृष्ण गोपाल आदि सभासद मौजूद रहे।

मंदिर की बालकनी से गिरने से एक वृद्ध की मौत

बाराबंकी। कोतवाली नगर क्षेत्र अंतर्गत एक वृद्ध की मंदिर की बालकोनी से गिरने से दर्दनाक मौत हो गयी। सूचना पर पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार कोतवाली क्षेत्र के ओबरी स्थिति गायत्री मंदिर में बीते आठ माह से आश्रय लिये कैलाश खत्री (92) सुबह पांच बजे मंदिर प्रांगण ने बनी बॉलकोनी से 22 फुट नीचे जा गिरा।

जहाँ पर मंदिर का सेवादार सोया हुआ था। आवाज़ सुन कर जागे सेवादार मनोज ने तुरंत प्रबंधक कमलेश कुमार को सूचित किया। एम्बुलेंस द्वारा जिलास्पताल ले जाने पर गंभीर रूप से घायल कैलाश को मृत बताया गया। मंदिर प्रबंधक ने पुरी जानकारी देते हुऐ बताया की मृतक लखनऊ में किसी जगह का रहने वाला था। जो बीते आठ महीने से यहां आश्रय लिये हुआ था।

करंट की चपेट में आने से एक युवक की मौत

बाराबंकी। कोतवाली नगर क्षेत्र में शुक्रवार सुबह एक व्यक्ति की करंट लगने से मौत हो गयी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया। मिली जानकरी के अनुसार ग्राम पंचायत गादिया के मजरे नूरपुर निवासी बदरुद्दीन (50) पुत्र शाह मोहम्मद सुबह खेत गया था। जहाँ लगे विद्युत पोल के स्टे में उतरी अर्थिंग की चपेट में आकर गंभीर रूप से झुलस गया। जिसे आनन – फानन में उपचार के लिये जिला अस्पताल लाया गया जहाँ चिकत्सको ने उसे मृत घोषित कर दिया।

बिना सोशल डिस्टेंसिग के जमा हो रहा विद्युत बिल

बाराबंकी। कोतवाली नगर क्षेत्र में घोसियाना मोहल्ला के निकट स्थिति विद्युत केंद्र कोरोना के संकट को दावत दे रहा है। जहाँ बिना सोशल डिस्टेंसिग के विद्युत उपभोक्ताओं को खड़ा करके बिल जमा कराया जा रहा है। प्रत्येक कार्य दिवस की भांति शुक्रवार को भी दोपहर के आधे घंटे बाद बिल जमा शुरू करने की प्रक्रिया कोरोना वाइरस के संक्रमण को आमंत्रण दे रही थी।

दोपहर तीन बजे के बाद लगी लम्बी कतार के बारे में ज़ब अधिशासी अभियंता से जानकारी किये जाने का प्रयास जिया गया तो वहां कुर्सी तोड़ रहे गनर ने बताया की साहब कही गये, अंदर स्टेनो है। अधिशाषी अभियंता को फोन किये जाने पर उनका फोन नहीं उठाना लापरवाही की तरफ साफ इशारा करता है। ये वही विद्युत उपभोक्ता है जो समय पर बिल इसलिए जमा कर देते है की विभाग की कार्यवाही का सामना ना करना पड़े। सरकार और विभाग भी यही चाहता है की उपभोक्ता समय पर अपना भुगतान करे। वही जिम्मेदार अधिकारी, बिल जमा करने आये उपभोक्ताओं को उचित सुविधा देना तो दूर, वर्तमान में व्याप्त कोरोना महामारी के संक्रमण का उन्हें खतरा उठाने पर मजबूर कर रहे है।

लकड़ी की गुमटी को अज्ञात लोगों ने किया आग के हवाले

मसौली, बाराबंकी। मसौली थाना क्षेत्र के अमदहा गांव के पास जंगल में बनी जय अम्बे प्लाई वुड फैक्ट्री के पास रखी सब्जी बेचने वाले अमदहा निवासी परशुराम  पुत्र दुखीराम की लकड़ी की गुमटी को बीती देर शुक्रवार की  रात अज्ञात अराजक तत्वों ने जला कर राख कर दिया।

मसौली पुलिस ने बताया कि उसकी माली हालत ठीक न होने के कारण लकड़ी की गुमटी रखकर हरी सब्जियां ,अंडा, पान -मसाला आदि की बिक्री कर के परिवार का पालन पोषण करता था। जिसकी गुमटी को बीती रात को अज्ञात अराजक तत्वों ने आग के हवाले कर दिया है।इससे गरीब दुकानदार को  हजारों रुपये का नुकसान हो गया।पीड़ित दुकानदार ने मसौली पुलिस को मामले की तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई है। उक्त घटना के बाद मौके पर  जाकर  मसौली पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

बीस वर्षीय बालिका की तालाब में गिरकर मौत

मसौली ,बाराबंकी। थाना क्षेत्र में घर के पीछे  लिन्टर पर  बैठी एक 20 वर्षीय मंदबुद्धि  की बालिका  तालाब में गिर गई। आसपास के लोगों ने निकाल कर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बड़ागांव में भर्ती कराया परन्तु उपचार के दौरान बालिका की मौत हो गई।

थाना मसौली के अन्तर्गत कस्बा बड़ागांव निवासी इन्द्रराज कशयप  की 20 वर्षीय पुत्री रिंकी जो कि मंदबुद्धि की थी। शुक्रवार को दोपहर में घर के पीछे  लिंटर पर बैठी थी अचानक घर के पीछे तालाब में जा गिरी। हालांकि  परिजनों ने रिंकी  की तमाम तलाश भी की  लेकिन कोई सुराग नही मिल सका।किसी पड़ोसी ने जब बताया कि रिंकी लिंटर  पर बैठी थी। तो फिर तालाब में तलाश शुरू हुई और उसमें से रिंकी को  निकाल  कर आनन-फानन में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बड़ागांव में भर्ती कराया गया जहां पर कुछ देर उपचार के बाद उसकी मौत हो गई। सूचना पर पहुंची मसौली पुलिस ने शव को कब्जे में ले कर पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेज दिया है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button