4 साल के अफेयर के बाद की शादी, फिर इस हाल में मिले दोनों की उड़ गयें सबके होश

- in अपराध, ज़रा-हटके

वैसे तो आए दिन आप कई सारी खबरें सुनते रहते हैं लेकिन कई बार ऐसी खबरें सामने आती है जो वाकई में काफी दर्दनाक होती है। आज जिस घटना के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं वो करीब 7 सितंबर 2016 के दिन ही घटी थी लेकिन आज तक उस घटना का रहस्‍य पता नहीं चल पाया। बता दें कि ये घटना जिले के मसीहागंज इलाके में घटी थी जहां अचानक एक शादीशुदा कपल के शव मिलने से पूरे जिले में हड़कंप मच गया था। दरअसल इन दोनों का शव निर्माणाधीन मकान के तीसरी मंजिल पर मिले थे बता दें कि वहां इस कपल की लाश करीब 24 घंटे तक पड़ी थीं। दोनों के शव अगल-बगल पड़े थे और लड़की के पर्स में लड़के का हाथ फंसा हुआ था।

लड़की के सिर के बीचोंबीच गोली लगी थी। ये कहानी एक बेहद ही खुबसूरत प्रेम कहानी थी लेकिन इसने एकाएक ऐसा मोड़ लिया और इसका इतना दर्दनाक अंत होगा ये खुद उन दोनों को भी पता नहीं होगा। शायद यही कारण है कि ये कहानी दर्दनाक कहानी हो गई। बताते चलें कि ये कहानी झांसी के मसीहागंज पुलिस चौकी क्षेत्र निवासी जय सिंह अहिरवार उम्र 30 साल केटरिंग शॉप ओनर की है जिसने 10वीं पास करने के बाद अपनी पढ़ाई छोड़ दी थी। परिवार को सपोर्ट करने के लिए एक टेंट हाउस का बिजनेस शुरू किया था।

बता दें कि इन दोनों कि मुलाकात शादी के एक फंक्‍शन में हुई थी जहां जय और ललितपुर की रहनेवाली मोनिका कुशवाहा की प्‍यार की शुरू हुई इन दोनों की दोस्‍ती काफी अच्‍छी हो गई थी और फिर करीब चार साल के अफेयर के बाद इन दोनों ने 10 अप्रैल 2016 को कोर्ट मैरिज कर ली। ये इंटरकास्ट मैरिज थी जिसकी वजह से दोनों के घरवाले विरोध में थे लेकिन विरोध के बावजूद इन दोनों ने शादी की लेकिन इनकी शादी में केवल लड़के वाले के परिवार वालें ही शामिल हुए लेकिन लड़की के परिवार वाले नदारद रहे।

बताया जा रहा था कि जय और उनकी पत्‍नी अपने लिए अलग आशियाना बनवा रहे थें क्‍योंकि वो घर से अलग रहना चाहते थें जिसके ि‍लए वो झांसी से करीब 10 km दूर ग्वालियर रोड पर स्थित डेली गांव में तीन मंजिला मकान बनवा रहा था। वहीं दूसरी ओर बीटीसी कंप्लीट कर चुकी मोनिका की सरकारी टीचर की नौकरी भी लग गई थी। वह इस बात से बहुत खुश थी। 1 सितंबर 2016 को उसने अपने फेसबुक अकाउंट पर ‘फीलिंग हैप्पी’ का स्टेटस पोस्ट किया था।

जिसके बाद दूसरी तरफ जय को मोनिका का जॉब करना पसंद नहीं आ रहा था। उसे शक था कि उसका कहीं और अफेयर चल रहा है जिसकी वजह से वो जॉब करना चाहती है। जय ने फेसबुक पर मोनिका के साथ तलाक की बात पोस्ट करते हुए लिखा था- लड़कियां धोखा देती हैं। जिसके बाद मोनिका अपनी नौकरी करने लगी और उसके नौकरी करने के लगभग 1 हफ्ते बाद ही उसकी और उसके हसबैंड जय की डेडबॉडी ग्वालियर रोड पर बन रहे मकान पर मिलीं।

वैसे देखने में तो ये सुसाइड का केस लग रहा था। जैसा कि बताया जा रहा है हो सकता है जय बुधवार को अपनी कार से अंडरकंस्ट्रक्शन मकान पर पहुंचा। उसके साथ मोनिका भी थी। वहीं तीसरी मंजिल पर ले जाकर उसने पहले अपनी वाइफ को गोली मारी और फिर खुद को मार ली। इसके पीछे क्या वजह रही होगी, यह साफ नहीं हो पाया है। लेकिन वहीं इनकी मौत आज भी पुलिस के लिए एक मिस्‍ट्री ही है।

पुलिस ने इसपर 2 थ्‍योरी लगा रखी है

पहला – जय के भाई के मुताबिक वह वाइफ मोनिका पर शक करता था। इसी वजह से उसने ग्रुप सुसाइड कर लिया। दूसरा – एसएसपी अब्दुल हमीद के मुताबिक लड़की के घरवाले शादी से खुश नहीं थे। इसलिए ऑनर किलिंग के एंगल को अवॉइड नहीं कर सकते।

You may also like

बेटी से संबंध बनाते देख प्रेमी का प्राइवेट पार्ट काटने वाले पिता और भार्इ हुए अरेस्ट

आप सभी को पता ही होगा कुछ दिन