दिल्ली हिंसा को लेकर सामने आए 2 नए वीडियो बेकाबू भीड़ ने किया था…

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा (Delhi Violence) से जुड़ा एक और वीडियो (Video) सामने आया है जिसमें बेकाबू भीड़ डीसीपी (DCP) पर पथराव करती हुई नजर आ रही है. इस मामले में अभी तक 2 वीडियो सामने आये हैं जिन्हें दिल्ली पुलिस ने भी सही करार दिया है. ये वीडियो 24 फरवरी के बताए जा रहे हैं जिसमें भीड़ की तरफ से पुलिस पर पथराव (Stone Pelting) हो रहा है साथ ही ये वीडियो दिल्ली के चांद बाग़ (Chandbagh) इलाके के बताए जा रहे हैं.

डिवाइडर के पास गिरे हुए थे डीसीपी
दिल्ली पुलिस के एसीपी अनुज का कहना है कि यह घटना 24 तारीख की है जहां वजीराबाद रोड पर अचानक भीड़ आ गई. हम किसी तरह एक प्राइवेट साधन से यमुना विहार गए. उन्होंने बताया कि डीसीपी बेहोश होकर डिवाइडर के पास गिरे हुए थे. किसी की पहचान पर एसीपी ने कहा कि भीड़ में सब दंगाई थे उसका कोई चेहरा नहीं होता.

पथराव होने के साथ फायरिंग
सूत्रों के मुताबिक ये वीडियो 24 फरवरी का है, जब चांदबाग के पास दो गुटों में झगड़ा और बवाल की खबर मिलते ही डीसीपी अमित शर्मा टीम लेकर वहां पहुंचे थे, लेकिन तभी वहां पर उपद्रवियों ने पुलिस पर पथराव करना शुरू कर दिया. बताया जा रहा है कि पुलिस रोकने में जुटी थी तभी पथराव इतना बढ़ गया जिससे पुलिस को पीछे हटना पड़ा. पुलिस पर लगातार पथराव होने के साथ फायरिंग भी की गई है. क्राइम ब्रांच की SIT इस वीडियो की भी जांच कर रही है वहीं जो पुलिसकर्मी मौके पर मौजूद थे उन सभी के बयान लिए गए हैं दावा किया जा रहा है कि इस भीड़ में ही उपद्रवियों ने रतन लाल पर फायरिंग की थी.

हिंसा को लेकर कौन है जिम्मेदार?
दिल्ली हिंसा को लेकर अब भी कई सवाल खंगाले जा रहे हैं. बीते रविवार से बुधवार तक उत्तर-पूर्वी दिल्ली के कई इलाके क्यों और कैसे जले? क्या यह सोची-समझी रणनीति के तहत किया गया? इन सवालों का जवाब तो खंगाले जा रहे हैं लेकिन जमीन पर अब भी हकीकत कुछ और है. नार्थ-ईस्ट इलाके में हिंसा के बाद स्थिति सामान्य हो रही है. बैंक, अस्पताल और दुकानें खुल गई हैं. लोग पहले की तरह ही खरीददारी कर रहे हैं और सड़क पर भी रौनक है.

हिंसा ग्रस्त इलाकों में पुलिस गस्त
सोमवार को भी दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल और नए पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव ने हिंसाग्रस्त इलाकों का दौरा किया. दोनों ने शिव विहार सहित कई इलाकों का दौरा कर लोगों से बात की है. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित परीक्षा भी हिंसा प्रभावित इलाकों में शुरू हुई. अभी हिंसा ग्रस्त इलाकों में पुलिस गस्त कर रही है. दिल्ली पुलिस के जवानों के साथ सीआईएसफ और सीआरपीफ के जवान बुधवार को भी हिंसाग्रस्त इलाके में मौजूद दिखे.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button