18 करोड़ लोगों का पेनकार्ड हो सकता है बेकार, कुछ महीनों में करना होगा ये काम

नई दिल्ली.
सरकार ने बुधवार को कहा कि बायोमेट्रिक पहचान पत्र आधार से अबतक 32.71
करोड़ स्थायी खाता संख्या  जोड़े जा चुके हैं. माई गॉव इंडिया ने ट्विटर पर
लिखा है, आधार से 32.71 करोड़ से अधिक पैन जोड़े जा चुके हैं. सरकार ने
पहले ही आधार को पैन से जोड़ने की तारीख बढ़ाकर 31 मार्च, 2021 कर दी है.
ट्वीट के अनुसार 29 जून तक 50.95 करोड़ पैन आबंटित किए गए हैं.

अगर नहीं किया
लिंक तो हो जाएगा निष्क्रिय-आयकर विभाग के अनुसार अगर पैन को निर्धारित
अवधि में आधार से नहीं जोड़ा जाता है, वह निष्क्रिय हो जाएगा. एक अलग ट्वीट
में माई गॉव इंडिया ने आयकर रिटर्न भरने वालों के आय वितरण के बारे में
ग्राफ के जरिए जानकारी दी है. इसके अनुसार आयकर रिटर्न भरने वाली 57
प्रतिशत इकाइयां ऐसी हैं, जिनकी आय 2.5 लाख रुपए से कम है. आंकड़ों के
अनुसार 18 प्रतिशत वे लोग रिटर्न भरते हैं जिनकी आय 2.5 से 5 लाख रुपए, 17
प्रतिशत की आय 5 लाख रुपए से 10 लाख रुपए और सात प्रतिशत की आय 10 लाख रुपए
से लेकर 50 लाख रुपए है.

आयकर रिटर्न
भरने वालों में केवल एक प्रतिशत अपनी आय 50 लाख रुपए से अधिक दिखाते
हैं.केंद्र सरकार की ओर से जारी आंकड़े बताते हैं कि देश के करीब 18 करोड़
पैन कार्ड आधार से लिंक्ड नहीं हैं. आंकड़ों के मुताबिक बायोमेट्रिक पहचान
पत्र आधार से अबतक 32.71 करोड़ स्थायी खाता संख्या (पैन) जोड़े जा चुके
हैं. वहीं, 29 जून तक 50.95 करोड़ पैन आबंटित किए गए हैं. मतलब ये कि अब भी
18 करोड़ के करीब पैन कार्ड आधार से लिंक नहीं हैं. अगर आप भी इस सूची में
शामिल हैं तो आपके लिए सिर्फ 7 महीने की मोहलत है.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button