हत्यारोपी सिपाही के समर्थन में काली पट्टी बांधने पर तीन थानाध्यक्ष नपे, तीन सिपाही निलंबित

लखनऊ ब्यूरो। विवेक तिवारी हत्याकांड में दोषी दोनों सिपाहियों के समर्थन में शुक्रवार को राजधानी समेत प्रदेश के कई जिलों में कई सिपाहियों ने काला दिवस मनाये जाने पर डीजीपी ओपी सिंह सख्त कार्रवाई करते हुए तीन थानाध्यक्षों को हटा दिया गया है और तीन सिपाहियों को तत्काल निलंबित कर दिया गया है। शुक्रवार को गुडंबा और नाका पुलिस स्टेशन पर कई सिपाही हाथों में काली पट्टी बांधे नजर आए, जिनकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद डीजीपी ओपी सिंह ने सख्त कार्रवाई का निर्देश दिया था।
डीआईजी एलओ प्रवीण कुमार ने पत्रकारों को बताया कि लखनऊ के नाका, गुडंबा व अलीगंज के थाना क्षेत्र के सिपाहियों के खिलाफ बड़ा एक्शन लिया है। इसमें नाका थाना प्रभारी परशुराम सिंह, गुडम्बा थाना प्रभारी धर्मेश शाही, अलीगंज थाना प्रभारी राजेश शुक्ल लाइन हाजिर कर दिया गया है। राजधानी के तीनों सिपाही काली पट्टी बांधे हए तस्वीरों में नजर आ रहे थे। उनको निलंबित कर दिया गया है।
इसी के साथ ही उन्होंने कहा कि एटा के बर्खास्त सिपाही सर्वेश चौधरी के खिलाफ की कार्रवाई की जा रही है। सिपाही सर्वेश चौधरी को गुरुवार उनके पद से निलंबित कर दिया गया था।सर्वेश चौधरी पर दोषी सिपाहियों के समर्थन में भड़काऊ पोस्ट डालने का आरोप था। डीआईजी एलओ प्रवीण कुमार ने बताया कि मिर्जापुर में बर्खास्त सिपाही अविनाश अरेस्ट किया गया है। चंदा एकत्र करने की जांच की जा रही है। चंदा एकत्र करने मामले में मुकदमा दर्ज किया गया है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button