स्‍मार्ट मीटर मामले की जांच के लिए यूपीपीसीएल ने गठित की कमेटी, दो दिन में देगी रिपोर्ट

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश में गलत तरीके से स्‍मार्ट मीटर का इस्‍तेमाल करने वाले कंज्‍यूमर्स के कनेक्‍शन कटने के मामले में आज उत्‍तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड ने एक कमेटी का गठन कर दिया है। यह कमेटी पूरे मामले की जांच और इसके साथ ही दोबारा ऐसा न हो इस पर अपने सुझाव को दो दिन में प्रस्‍तुत करेगी।

कमेटी में एसपी गंगवार, प्रबंध निदेशक, मध्‍यांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड को अध्‍यक्ष बनाया गया है। वहीं इसके साथ ही ए के श्रीवास्‍तव, ए के चौधरी और निदेशक आईआईटी कानपुर द्वारा नामित विशेषज्ञ को सदस्‍य बनाया गया है।

वहीं इससे पहले इस पूरे मामले की जांच यूपी सरकार ने एसटीएफ को सौंप दी। साथ ही योगी सरकार ने कई अधिकारियों को सस्‍पेंड भी कर दिया। दरअसल जन्माष्टमी के दिन उत्तर प्रदेश के तीन लाख से ज्यादा घरों में अचानक बिजली गुल हो गई थी।

जानकारी के मुताबिक, यूपी के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। बेहतर बिजली सेवाएं देने के नाम पर लगाए गए स्मार्ट मीटर ने अचानक धोखा दे दिया। कई जिलों की बिजली व्यवस्था ध्वस्त हो गई। ये सब एक गलत कमांड की वजह से हुआ। इस कारण प्रदेश के आठ शहरों में लगे 10 लाख स्मार्ट मीटर में से डेढ़ लाख मीटर की बिजली गुल हो गई।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button