सोनिया गांधी के साथ मीटिंग में क्या बोले उद्धव ठाकरे

जुबिली स्पेशल डेस्क
कांग्रेस में इस समय घमासान मचा हुआ। अभी हाल में ही कांग्रेस में वर्किंग कमेटी की बैठक हुई है। इसके बाद सोनिया गांधी ने बुधवार को कांग्रेस शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों के अलावा कांग्रेस समर्थित सरकारों के मुख्यमंत्री और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ एक बैठक की है।
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इस बैठक का आयोजन हुआ है। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बुधवार को ममता बनर्जी, उद्धव ठाकरे और हेमंत सोरेन समेत सात मुख्यमंत्रियों के साथ आज अहम बैठक की। बैठक के दौरान जीएसटी, जीएसटी, नई शिक्षा नीति और नीट परीक्षा को लेकर चर्चा हुई।
यह भी पढ़ें : विकास दूबे केस से जुड़ा ऑडियो वायरल, जाने SO और SSP के बीच क्या हुई बात
यह भी पढ़ें : गांधी परिवार के करीबी गुलाम ने क्यों लांघी वफादारी की सीमा रेखा?
बैठक के दौरान ममता बनर्जी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकर की तारीफ करते हुए कहा कि उद्धव ठाकरे जी आप अच्छा लड़ रहे हैं। इस पर उद्धव ने कहा कि मैं लडऩे वाले बाप का लडऩे वाला बेटा हूं। इसके अलावा उन्होंने सोनिया गांधी को अध्यक्ष पद जारी रहने के लिए बधाई देते हुए कहा कि पहले हमें तय करना चाहिए कि डरना है या लडऩा है।
इससे पूर्व सोनिया गांधी ने बैठक में बोलते हुए कहा कि जीएसटी पर राज्यों को क्षतिपूर्ति देने से इनकार किया जाना मोदी सरकार द्वारा राज्यों के लोगों से छल के अलावा और कुछ नहीं है।

यह भी पढ़ें : अमेरिका ने अपने नागरिकों से क्यों कहा कि भारत की यात्रा न करें
यह भी पढ़ें : डंके की चोट पर : अज़ादारी पर बंदिश भक्त की नहीं हनुमान की बेइज्ज़ती है
सोनिया गांधी ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति धर्मनिरपेक्ष और वैज्ञानिक मूल्यों के लिए झटका है, इसने सरकार की असंवेदनशीलता उजागर की है. उन्होंने कहा कि छात्रों की समस्याओं और परीक्षाओं के मुद्दे से केंद्र लापरवाही से निपट रहा है। सोनिया गांधी ने कहा कि पर्यावरण असर आकलन (ईआईए) कानून का मसौदा अलोकतांत्रिक है, मोदी सरकार ने पर्यावरण, लोक स्वास्थ्य की सुरक्षा वाले कानूनों को कमजोर किया है।
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बैठक में नीट-जेईई एग्जाम को लेकर कहा कि लाखों की संख्या में छात्र हैं और लॉकडाउन के चलते ट्रांसपोर्ट तक की सुविधा नहीं है। उन्होंने कहा कि मैंने एग्जाम को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र्र मोदी को कई पत्र लिखे हैं और कहा है कि जब छात्र परेशान हैं तो ऐसी स्थिति में केंद्र सरकार सुप्रीम कोर्ट में अपील कर रिव्यू की मांग कर सकती है।
झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने विपक्ष को मजबूत करने की बात कही है। उन्होंने कहा कि विपक्ष को एकजुट होना होगा। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी कहा कि केंद्र में सत्तारूढ़ पार्टी विपक्ष के खिलाफ एजेंसियों का इस्तेमाल कर संघीय ढांचे को कमजोर कर रही है.
इन लोगों ने बैठक में लिया भाग
राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत
छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश सिंह बघेल
पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह
पुडुचेरी के सीएम नारायणसामी
महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे
झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button