सेक्स को लेकर न हो कंफ्यूज, जितना डूबकर करेंगे उतना ज्यादा आएगा मजा

- in 18+

जब भी कोई शख्स अपनी गर्लफ्रेंड के साथ कमरे मे अकेले होता है तो उसके मन में सेक्स के विचार उमड़ने लगते हैं लेकिन साथ ही वह इस दुविधा मे भी फंसा रहता है कि सेक्स करना सही रहेगा या नहीं। अगर सेक्स करने का डिसीजन उसने ले भी लिया तो वह यह सोंचकर कंफ्यूज रहता है कि इस दौरान मुझे कौन-कौन से तरीके अपनाने हैं। हालांकि इन सब के बीच वह सेक्स के वक्त पार्टनर की फीलिंग्स से खिलवाड़ नहीं चाहतासेक्स को लेकर न हो कंफ्यूज

सेक्स के वक्त पार्टनर से जरूर करें बात

यह हो गई लड़कों की बात…अब लड़कियों की बात करते हैं सेक्स से पहले लड़कियों के मन मे भी कुछ ऐसे ही सवाल हिलोरे मारते हैं। साथ ही वह अपने सेक्स पार्टनर से बहुत कुछ चाहती भी हैं लेकिन क्या उन्होने कभी सोचा है कि उनका पार्टनर उनसे क्या चाहता है।

कभी भी सेक्स को इस तरह से न करें बस करना है। इस खास पल को आप जितना ज्यादा एन्जॉय करेंगे वह आपके लिए उतना अच्छा है। सेक्स को कभी भी फोर्स या किसी दबाव में आकर न करें। सेक्स के बाद अपने पार्टनर से बात जरूर करें। क्योंकि जब आप बात करेंगे तो चीजें क्लीयर होंगी। आप रिलेशनशिप में है तो आपके बात से ही पता चलेगा कि आप इसको लेकर कितना सीरियस है या नहीं।

यह भी पढ़े: जानें सेक्स करने की सही उम्र क्‍या होती है? यानी कब करें अपना पहला सेक्‍स

कई बार आप सेक्स के वक्त ज्यादा मजा के लिए कंडोम का इस्तेमाल नहीं करते। ऐसे में आप प्रेग्नेंट हो सकते हैं। इसलिए कभी भी जज़्बात में आकर कंडोम का इस्तेमाल नहीं करते है। जब भी आप सेक्स के दौरान टर्न ऑफ हो जाए तो आप अपने पार्टनर को आराम से ‘न’ बोल सकते हैं। कभी भी ये मत सोचिए कि उसे बुरा लगेगा या पता नहीं क्या सोचेगा। क्योंकि आप किसी के साथ रिलेशनशिप में है तो सबसे खास बात यह है कि वह आपकी फीलिंग्स रेस्पेक्ट करें।

सेक्स के वक्त पार्टनर कुछ बोले या नहीं लेकिन लड़कियों को कुछ बातों का खास ख्याल रखना चाहिए। जैसे आपके इंटरनल बॉडी पार्ट की सफाई को लेकर। कई बार ऐसा होता है कि आपके पार्टनर आपके हाइजिन को लेकर नहीं बोलते है लेकिन इसका मतलब यह बिलकुन नहीं कि आप गंदे तरीके से रहे बल्कि आपको खुद ऐसा होना चाहिए बिना अपने पार्टनर के बोले आप साफ-सफाई पर ध्यान दें।

You may also like

पार्टनर को लाना है करीब तो अपनाएं ये आसान टिप्स

रिश्ते बहुत नाजुक होते हैं। कई बार हम