सुहास एल वाई होंगे गौतमबुद्धनगर के नए जिलाधिकारी, बीएन सिंह के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की तैयारी

 
नोएडा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की नाराजगी के बाद गौतमबुद्धनगर (नोएडा) के जिलाधिकारी बीएन सिंह को पदमुक्त कर दिया गया है। अब उनकी जगह सुहास एल वाई को गौतमबुद्धनगर का नया डीएम नियुक्त किया गया है। सुहास 2007 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। वहीं, बीएन सिंह के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की भी तैयारी है।
इससे पहले आज नोएडा में हुई एक मीटिंग में योगी आदित्यनाथ ने बीएन सिंह की क्लास लगा दी थी। नोएडा के मौजूदा हालात के लिए उन्हें जिम्मेदार ठहराया था। इसके बाद बीएन सिंह ने उप्र के चीफ सेक्रेट्री को चिट्ठी लिखकर तीन महीने की छुट्टी की मांग की। इसके पीछे डीएम ने व्यक्तिगत कारणों का हवाला दिया है। बीएन सिंह के बगावती तेवर के चलते सरकार ने उन्हें जिलाधिकारी पद से हटा दिया।
मुख्यमंत्री योगी के आज नोएडा से जाने के बाद जिलाधिकारी बीएन सिंह ने उत्तर प्रदेश के चीफ सेक्रेट्री आरके तिवारी को चिट्ठी लिखकर तीन महीने की छुट्टी मांग की है। जिलाधिकारी ने अपनी चिठ्ठी में लिखा है कि व्यक्तिगत कारणों से मैं जिलाधिकारी गौतमबुद्धनगर के पद पर नहीं रहना चाहता हूं। इसलिये जिलाधिकारी के पदीय दायित्वों से मुक्त करते हुए तीन माह का अवकाश स्वीकृत करने का कष्ट करें। उन्होंने लिखा है कि वर्तमान में कोविड 19 को ध्यान में रखते हुए प्रशासनिक कार्य में शिथिलता न हो इसलिए किसी अन्य अधिकारी को जिलाधिकारी गौतमबुद्धनगर के रूप में तैनाती करने का कष्ट करें।
दरअसल, विश्वभर में फैले कोरोना वायरस (कोविड 19) के उत्तर प्रदेश में 77 मामले अब तक सामने आ चुके हैं। जिसमें जिला गौतमबुद्धनगर में सबसे अधिक 33 मामले हैं। जिले में कोरोना से निपटने की तैयारियों और व्यवस्थाओं को जायजा लेने सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ग्रेटर नोएडा आए थे। गौतमबुद्धनगर यूनिवर्सिटी के सभागार में समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने डीएम बीएन सिंह और मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. अनुराग भार्गव को फटकार लगायी थी। मुख्यमंत्री ने ब्रिटिश नागरिक से कोरोना वायरस के जिले में 19 लोगों के संक्रमित होने के कारण नाराजगी जताई थी।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button