सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण से आखिर वसूल ही लिया एक रुपया

जुबिली न्यूज़ डेस्क
नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट से अवमानना के दोषी करार दिए गए वकील प्रशांत भूषण ने जुर्माने की रकम एक रुपया सुप्रीम कोर्ट के रजिस्ट्रार के पास जमा करवा दिया है. जुर्माने की राशि जमा करने के बाद प्रशांत भूषण ने कहा कि इसका मतलब यह नहीं माना जाए कि मैंने सुप्रीम कोर्ट का फैसला स्वीकार कर लिया है. उन्होंने कहा कि आज ही पुनर्विचार याचिका दायर कर रहा हूँ.

Loading...

प्रशांत भूषण ने कहा कि देश में अभिव्यक्ति की आज़ादी खतरे में है. उन्होंने कहा कि सच्चाई के लिए लड़ने वालों के लिए एक कोष तैयार किया जा रहा है. इस कोष में जमा धन का इस्तेमाल उनके लिए किया जाएगा जिन्हें सरकार के खिलाफ बोलने के लिए परेशान किया जा रहा है.
यह भी पढ़ें : राजस्थान सरकार ने रोका पिंक पत्थरों का खदान, इसी से बनना है राम मन्दिर
यह भी पढ़ें : बुझ गया अवध के आख़री बादशाह के घर का चिराग
यह भी पढ़ें : डंके की चोट पर : सियासत का कंगना और जंगलराज की घंटी
यह भी पढ़ें : इल्म का समंदर कहे जाते थे अल्लामा ज़मीर अख्तर
उन्होंने कहा कि हालात अब ऐसे हो गए हैं कि सरकार के खिलाफ जो भी आवाज़ उठाता है उसे परेशान किया जाता है. जेएनयू के छात्र उमर खालिद की गिरफ्तारी इसी कड़ी का हिस्सा है.

loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...