सादे समारोह में होगी ‘रामलला’ की अस्थायी मंदिर में स्थापना

न्यूज़ डेस्क
अयोध्या। देश में कोरोना वायरस से बचने के लिये उठाये जा रहे ऐहतियाती कदमों के बीच 25 मार्च को अयोध्या में रामलला की प्रतिमाओं को चुनिंदा संत महात्माओं की मौजूदगी में बुलेट प्रूफ अस्थायी मंदिर में स्थापित किया जायेगा।
जानकारी के मुताबिक जन्मभूमि स्थल पर भव्य राममंदिर के निर्माण तक के लिये रामजानकी की प्रतिमाओं को अस्थायी मंदिर में स्थापित किया जा रहा है।
ये भी पढ़े: गांवों तक पहुंच सकता हैं कोरोना वायरस
बुधवार भोर चार बजे वैदिक मंत्रोच्चार के बीच संत महात्मा प्रतिमाओं को अस्थायी मंदिर में विराजमान करेंगे। इस मौके पर चुनिंदा लोग ही उपस्थित रहेंगे। ऐसा कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के तहत किया जा रहा है।

अयोध्या में रामलला को नए अस्थाई मंदिर में ले जाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसके लिए धर्माचार्यों की टीम ने सोमवार सुबह से अनुष्ठान प्रारम्भ कर दिया है। अयोध्या राजघराने से नए घर में रामलला को विराजमान करने के लिए चांदी का सिंहासन भेंट किया गया है।
रामलला को विराजमान करने के लिए बनाए जा रहे अस्थाई मंदिर को सुरक्षा की दृष्टि से तैयार करने का काम गृहमंत्रालय की टीम कर रही है। इसकी भीतरी दीवार को बुलेटप्रूफ फाइबर और कांच से बनाया गया है। गृहमंत्रालय की टीम 24 मार्च की शाम तक अपना काम पूरा कर लेगी।
ये भी पढ़े: कोरोना : जेलों में कितने सुरक्षित कैदी?

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button