लड़के और लड़कियों दोनों होते है अलग तरह से जवान

150829107_5727ebad9d911लड़कों और लड़कियों के युवावस्था के बीच का मुख्य अंतर इसके शुरू होने की उम्र और इस प्रक्रिया में शामिल मुख्य सेक्स स्टेरॉयड हैं. यद्यपि सामान्य उम्र की एक विस्तृत सीमा है, तथापि लड़कियों में युवावस्था 10 वर्ष तथा लड़कों में 12 वर्ष की उम्र में शुरू होती है. आम तौर पर 15-17 वर्ष की उम्र तक लड़कियों की युवावस्था समाप्त हो जाती है, जबकि लडकों का युवावस्था काल 16-18 वर्ष की उम्र में ख़त्म होता है. 

इन आयु-सीमाओं के बाद ऊंचाई बढ़ना असामान्य होता है. युवावस्था के प्रथम लक्षण के दिखाई देने के लगभग 4 वर्ष बाद लड़कियां प्रजनन परिपक्वता प्राप्त कर लेती हैं. इसके विपरीत, लड़के धीमी गति से बढ़ते हैं, किन्तु युवावस्था के पहले लक्षण के दिखाई देने के लगभग 6 वर्ष तक बढ़ते रहते हैं.

मादाओं के विकास को प्रभावित करने वाला हार्मोन एक एण्ड्रोजन है जिसे एस्ट्राडियोल कहा जाता है. जबकि एस्ट्राडियोल गर्भाशय और स्तन वृद्धि को बढ़ावा देता है, यह प्रजनन क्षमता में तेज़ी लाने तथा एपिफाइसील की परिपक्वता तथा समाप्ति करने वाला प्रमुख हार्मोन भी है. पुरुषों की तुलना में महिलाओं में एस्ट्राडियोल का स्तर तेज़ी से बढ़ता है और उच्च स्तर तक पहुँच जाता है.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button