लॉकडाउन को लगातार मानीटर कर रहा है स्वास्थ्य मंत्रालय

प्रमुख संवाददाता  
नई दिल्ली। स्वास्थ्य मंत्रालय ने एम्स में कोरोना से निबटने के लिए केन्द्र बनाया है। डाक्टरों को ऑनलाइन ट्रेनिंग का इंतजाम किया जा रहा है। डाक्टरों के साथ नर्सिंग स्टाफ को भी ट्रेनिंग दी जा रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी को आगाह किया है कि कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई सबकी साझा लड़ाई है और सबको मिलकर लड़नी पड़ेगी।
स्वास्थ्य मंत्रालय लॉक डाउन को लगातार मानीटर कर रहा है। इस सम्बन्ध में सभी राज्यों से लगातार बात चल रही है। स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि देश के 17 राज्यों में कोरोना का संकट है। इन सभी राज्यों से लगातार सम्पर्क बना हुआ है।
स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि हम कोरोना की चेन तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं। हमने सभी राज्यों से आइसोलेशन वार्ड तैयार करने को कहा है। उन्होंने बताया कि मरीजों को भर्ती करने की मंत्रालय ने जो तैयारी की है वह पर्याप्त है। उन्होंने बताया कि हमने कोरोना की टेस्टिंग का इंतजाम कर लिया है। मौजूदा समय में पांच लाख लोगों की जांच हम कर सकते हैं। टेस्टिंग किट्स हमें मिल चुकी हैं।
उन्होंने बताया कि कोरोना का खतरा बुजुर्गों में ज्यादा है इसलिए ज्यादा उम्र के लोगों को ज्यादा सावधान रहने की ज़रुरत है। स्वास्थ्य सचिव ने देश में 149 नए मरीजों की आज पुष्टि की है। स्वास्थ्य सचिव ने राज्य सरकारों से अपने-अपने राज्य में शिविर लगाकर जांच कराने को भी कहा है। उन्होंने लोगों से भी कहा है कि जिसे भी शक हो वह जांच कराने से डरे नहीं। जिसमें भी लक्षण मिलेंगे उसका अच्छी तरह से इलाज किया जाएगा।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि कोरोना को लेकर तैयार की गई वैक्सीन अभी ट्रायल की प्रक्रिया में है। अब तक किसी मानव शरीर पर इसका ट्रायल नहीं किया गया है।
गृह विभाग के अधिकारी ने बताया कि गौतम बुद्ध नगर की तरह से दिल्ली में कोई मकान मालिक कोरोना महामारी के दौरान अपने किरायेदार को तत्काल किराए के लिए दबाव नहीं बना सकेगा। इस सम्बन्ध में अधिकारियों को निर्देश दे दिया गया है। किरायेदार और मकान मालिक के बीच का विवाद हल करने के लिए राज्य सरकार से कहा गया है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button