लॉकडाउन: उप्र में 6356 लोगों पर पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा, तीन दिन में तीन करोड़ से ज्यादा की वसूली

लखनऊ: देश की वैश्विक महामारी कोराना (कोविड-19) से निपटने के लिए राज्य सरकार ने पूरे प्रदेश में 21 दिन का लॉकडाउन लगाया है। साथ ही कड़ाई से पालन कराने के​ लिए मातहतों को सख्त निर्देश दिए हैं। लॉक डाउन के नियमों का उलंघन करने वालों के खिलाफ पुलिस ने कड़ी कार्रवाई की है। इसके तहत अब तक तीन दिनों में 6356 लोगों पर मुकदमा दर्ज हुआ है। जुर्माने के तौर पर अब तक तीन करोड़ इक्तालीस लाख चौरानवे हजार दो सौ अढ़सठ रुपये की वसूली की जा चुकी हैं।
कोरोना महामारी से निपटने के लिए सरकार पूरी तरह से सजग है। इसी के चलते 21 दिनों का पूरे प्रदेश में लॉकडाउन लगाया गया है। साथ ही लोगों से अपील की जा रही है कि लोग घर में ही रहें बाहर न निकले। सरकार लोगों को हर सुविधा मुहैया करायेगी।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस महानिदेशक को सख्त निर्देश दिए है कि पुलिस के सहयोग से लॉकडाउन का पालन कराया जाय। लोगों को जरुरत का सामान पुलिस के द्वारा पहुंचाया जाये। सरकार ने जनता से भी अपील की है कि जरुरत पड़ने पर ही घर से बाहर निकले। लेकिन लोग लॉक डाउन का पालन नहीं कर रहे हैं। इसके चलते पुलिस ने इन लोगों पर कार्रवाई की है।
तीन दिनों में पुलिस ने प्रदेश के सभी जनपदों में अब तक 6356 लोगों पर मुकदमा दर्ज किया है। 03,41,94,268 रुपये का जुर्माना वसूला है। साथ ही समस्त जनपदों में करीब 14529 जगहों पर नाका और बैरियर लगाकर 649,072 वाहनों को चेक किया है। 163623 वाहनों को चालान और 12563 वाहनों को सीज किया गया है।
पुलिस महानिदेशक ​हीतेशचन्द्र अवस्थी ने कहा कि प्रदेश में लॉकडाउन लगा है। प्रदेशवासियों से अपील की है कि सभी लोग घर में रहे। बहुत ही जरुरत पड़ने पर ही घर से बाहर निकले।

Loading...
loading...
Loading...