लखनऊ के दो निजी अस्‍पतालों में कोविड जांच पर लगी रोक

-गलत रिपोर्ट देने व प्रोटोकाल का पालन न करने पर सीएमओ ने की कार्रवाई

-चरक हॉस्पिटल और चंदन हॉस्पिटल अब नहीं कर सकेंगे कोरोना की जांच

लखनऊ। कोविड टेस्ट के लिए अधिकृत राजधानी के दो प्राइवेट चिकित्सालयों में प्रोटोकाल की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। चरक हॉस्पिटल में फाल्स रिपोर्टिंग और चंदन हॉस्पिटल में कोविड मरीजों के लिए पृथक सुविधा न होने की वजह से मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.आर पी सिंह ने कोविड टेस्ट करने की सुविधा पर रोक लगा दी है। 

ज्ञात हो वै‍श्विक महामारी कोरोना को लेकर जहां आमजन दहशत में है, बेतहाशा बढ़ते संक्रमण की भयावह होती जा रही स्थिति से बचने और दूसरों को बचाने के लिए पूरी सतर्कता बरती जाने की आवश्‍यकता है। सरकार एवं स्वास्थ्य विभाग संक्रमण की रोकथाम के लिए शुरू से सक्रियता बरतने की सलाह दे रहा है, ऐसे दौर में इन अस्‍पतालों के कृत्‍य पर गंभीरता के साथ कार्रवाई करते हुए सीएमओ ने यह निर्णय लिया है। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.अजय राजा ने बताया कि चरक हॉस्पिटल में कोविड टेस्ट कराने वालों की रिपोर्ट गलत प्राप्‍त हो रही थी। पॉजिटिव मरीजों को निगेटिव और निगेटिव रोगियों को पॉजिटिव की रिपोर्ट प्राप्‍त हुई थी। इन मरीजों में दोबारा आरटीपीसीआर टेस्ट कराने पर गलत रिपोर्टिंग को प्रमाणित भी कराया गया है। यह बड़ी लापरवाही को देखते हुए तत्काल प्रभाव से कोविड टेस्ट करने की सुविधा पर रोक लगा दी गई है।

उन्‍होंने बताया कि इसके अलावा चिनहट स्थित चंदन हॉस्पिटल में कोविड मरीजों और नॉन कोविड मरीजों के लिए एक ही प्रवेश द्वार है, जबकि प्रोटोकाल व शर्तानुसार कोविड व नॉन कोविड हॉस्पिटल संचालन में बिल्डिंग व प्रवेश द्वार पृथक होना चाहिये। इन खामियों को देखते हुए कोविड टेस्ट की सुविधा को प्रतिबन्धित कर दिया गया है। 

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button