रेस्पिरेटरी विभाग से जुड़े जॉर्जियंस जुटे केजीएमयू में, याद किया गुजरा जमाना

-विदेशों में नाम कमा रहे चिकित्‍सकों ने भी जीवन साथी के साथ किया पौधरोपण
-संस्‍था पेड़ की जड़ की तरह, जड़ को छोड़ देने पर सूख जाता है पेड़ : प्रो सूर्यकांत
-आईएमए-सीजीपी लखनऊ चैप्टर और आईएमए के संयुक्त तत्वावधान में आयोजन

लखनऊ। केजीएमयू के रेस्पिरेटरी मेडिसिन विभाग के शिक्षकों द्वारा रविवार को वर्ष 1998 बैच के जॉर्जियन्स मीट का आयोजन किया गया। इस अवसर पर देश के विभिन्न प्रांतों में स्थापित हो चुके चिकित्सकों के साथ ही विदेशों में सेवाएं देने वाले जॉर्जियन्स भी शरीक हुये। इस आयोजन के मुख्‍य अतिथि आईएमए लखनऊ के अध्‍यक्ष व रेस्पिरेटरी मेडिसिन विभागाध्यक्ष प्रो.सूर्यकांत ने जॉर्जियन्स को संबोधित करते हुए कहा कि आप लोग आज अपनी संस्‍था में इकट्ठे हुए हैं, यह बड़े ही हर्ष की बात है, क्‍योंकि संस्‍था का जीवन में बहुत महत्‍व होता है।
 
डॉ सूर्यकांत ने संस्‍था के महत्‍व को पेड़ की जड़ की तरह बताते हुए कहा कि जो पेड़ अपनी जड़ों को छोड़ देता है वह सूख जाता है। उन्‍होंने जॉर्जियंस का उत्‍साहवर्धन करते हुए कहा कि मुझे इस बात की बहुत खुशी है कि 20 साल पूरे होने पर आप लोगों ने अपनी मीट के अवसर पर अपनी चिकित्‍सा शिक्षा की मूल संस्‍था केजीएमयू को पौधरोपण के लिए चुना। उन्‍होंने कहा कि अब जब पांच साल बाद आप लोग जब रजत जयंती के अवसर पर जुटें तो इस बीच यह चिंतन कीजियेगा कि जिस संस्‍था ने आज आपको इतना नाम और यश दिया उसे रिटर्न गिफ्ट के रूप में आप क्‍या देंगे। प्रो सूर्यकांत ने इन जॉर्जियंस के साथ रेस्पिरेटरी विभाग के समक्ष पार्क में पौधारोपण में भी हाथ बंटाया, खुद भी पेड़ लगाया। पूरा कार्यक्रम आईएमए-सीजीपी लखनऊ चैप्टर और आईएमए के संयुक्त तत्वावधान में चला।
 
जॉर्जियन्स मीट में मौजूद 57 जार्जियन्स में 1998 बैच के अमेरिका के बोस्टन में स्थापित हो चुके डॉ.गौरव जैन एवं दुबई से डॉ.आकांक्षा गांधी शामिल हुई। मीट में अपने साथियों से मिलने के बाद लोगों ने न केवल पुरानी यादें ताजा कीं, बल्कि वर्तमान में कौन कितना तरक्की पर है, हाल लिया। मजेदार बातें वैवाहिक जीवन को लेकर रहीं। बैच मेट में लव मैरिज करने वाले दंपति संजय सिंघल व मृणाली वर्मा और बाराबंकी में प्रैक्टिस करने वाले बैचमेट दंपति डॉ.दीप्ति जैन व डॉ.अमित कुमार समेत कई चिकित्सक अपने परिवार के साथ आये। सभी ने अपने साथियों से पत्नियों को मिलवाया और साथ ही एक दूसरे की शरारत भरी आदतों से एक दूसरे को रूबरू कराया। हंसी मजाक, ठिठोली और हर्षोल्लास के बीच गीत संगीत का भी दौर चला। मीट के आयोजन सचिव एवं रेस्पिरेटरी मेडिसिन विभाग के एसोसिएट प्रो. अजय कुमार वर्मा ने बताया कि डॉ.अमित कुमार दंपति का सफल आयोजन में महत्वपूर्ण योगदान रहा। उन्होंने बताया कि मीट में आईएमए-सीजीपी लखनऊ चैप्टर की डॉ. रुखसाना खान और आईएमए के डॉ.राकेश कुमार भी मौजूद रहें, उन्होंने जॉर्जियन्स का उत्साह वर्धन किया।
 
 
 
 
 
 
 
 

Loading...

Check Also

क्रिकेट के मैदान पर फिर घटी दिल दहला देेने वाली घटना

पाकिस्तान और न्यूज़ीलैंड के बीच अबु धाबी में खेले गए दूसरे वनडे मैच में कुछ …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com