राजीव गांधी के बारे मे सोश्ल मीडिया पर भ्रामक संदेश …

पुलवामा हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़े तनाव के दौरान जब भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन को दो दिन की हिरासत के बाद पाकिस्तान ने रिहा किया, उसके बाद ये मैसेज तेज़ी से सोशल मीडिया पर शेयर होना शुरू हुआ।’जब 1971 की भारत-पाकिस्तान जंग में देश को उनकी सेवाओं की ज़रूरत थी तो भारतीय वायु सेना के नियमित पायलट रहे राजीव गांधी देश छोड़कर भाग गए थे’.राजीव गांधी के बारे में सोशल मीडिया पर एक भ्रामक संदेश सर्कुलेट किया जा रहा है।
 
अपने इन दावों को सही साबित करने के लिए कुछ फ़ेसबुक और ट्विटर यूज़र्स ने ‘ पोस्टकार्ड न्यूज़ ‘ और ‘ पीका पोस्ट ‘ नाम की दो वेबसाइट्स के लिंक शेयर किये हैं. इन वेबसाइट्स ने साल 2015 और 2018 में बिल्कुल वही दावा किया था जो हिन्दी में लिखी वायरल पोस्ट में किया गया है.
विमान उड़ाना राजीव गांधी का सबसे बड़ा शौक था. अपने इस शौक़ को पूरा करने के लिए उन्होंने लंदन (इंग्लैंड) से पढ़ाई पूरी करके लौटते ही ‘दिल्ली फ़्लाइंग क्लब’ की लिखित परीक्षा दी थी और उसके आधार पर ही राजीव गांधी कॉमर्शियल (वाणिज्यिक) लाइसेंस पाने में सफ़ल हुए थे.
भारत के सातवें प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने साल 1968 में भारत की सरकारी विमान सेवा ‘इंडियन एयरलाइंस’ के लिए बतौर पायलट काम करना शुरू किया था और क़रीब एक दशक तक उन्होंने यह नौकरी की थी.राजीव गांधी कभी भी भारतीय वायु सेना के नियमित पायलट नहीं रहे. उन्हें फ़ाइटर पायलट बताने वालों का दावा बिल्कुल ग़लत है.
.”

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button