युवी ने दादा को क्यों लिखा पत्र, वजह कर सकती है हैरान

जुबिली स्पेशल डेस्क
भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी युवराज सिंह ने पिछले साल क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। अब खबर है युवी अपना फैसला बदलना चाहते हैं। दरअसल युवी अपना संन्यास वापस लेकर दोबारा मैदान पर वापसी करना चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने बीसीसीआई अध्यक्ष सौरभ गांगुली को पत्र भी लिखा है। युवी ने एक स्पोट्र्स के कार्यक्रम में दोबारा मैदान पर वापसी करने की बात कही है।
युवी ने कहा कि मैंने शुभमन गिल, प्रभसिमरन सिंह, हरप्रीत बरार जैसे पंजाब के युवा क्रिकेटरों के साथ मोहाली के पीसीए स्टेडियम में कुछ समय गुजारा और मुझे काफी मजा आया। मैंने उनसे खेल के विभिन्न पहलुओं पर बात की। मैंने महसूस किया कि मैं जो कुछ भी उन्हें बता रहा था वो उसे समझ पा रहे थे।

Loading...

यह भी पढ़े : IPL : तो फिर रैना का CSK से गिर गया विकेट
यह भी पढ़े : खेल दिवस पर विशेष : दद्दा से इतनी बेरुखी क्यों
उन्होंने कहा कि उन युवा खिलाडिय़ो को खेल के कुछ और पहलुओं को बताने के लिए मुझे नेट पर जाना पड़ा। नेट पर उतरने के बाद मैंने जिस तरह से गेंद को हिट किया मुझे काफी आश्चर्य हुआ, जबकि मैंने काफी लंबे अरसे से बैट नहीं पकड़ा था। अभी हाल में पंजाब क्रिकेट संघ भी चाहता है युपी दोबारा मैदान पर वापसी करे।

पंजाब क्रिकेट संघ की माने तो युवी पंजाब टीम के खिलाड़ी और मेंंटर की भूमिका में अच्छा योगदान दे सकते हैं। बता दें कि युवराज सिंह ने साल 2019 में क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। उस दौर में उनकी जगह टीम में बनती नहीं दिख रही थी। युवाओं के बल पर विराट कोहली की टीम लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रही है। ऐसे में युवी को मौका टीम में नहीं मिल पा रहा था।
यह भी पढ़े :  IPL : रैना ने तोड़ी चुप्पी, बयां किया अपना दर्द
यह भी पढ़े : अच्छी खबर : ऐसे मिलेगी खिलाड़ियों को अब सरकारी नौकरी
इस वजह से युवराज ने वक्त से पहले संन्यास लेने का फैसला किया है लेकिन अब युवी खिलाडिय़ों को मार्गदर्शन देना चाहते हैं। हालांकि युवी ने ग्लोबल टी-20 कनाडा और अबु धाबी टी-10 लीग में अपना दम-खम दिखाया है।
युवराज ने अपने पत्र में यह भी कहा है कि अगर बीसीसीआई उनको पंजाब से खेलने के लिए मंजूरी देता है तो वो विदेशी लीग में नहीं खेलेगे। युवराज ने कहा कि अगर मुझे बीसीसीआई की ओर से अनुमति मिलती है, तो मैं सिर्फ टी20 मैच ही खेलूंगा, लेकिन कौन जानता है आगे क्या होगा।

यह भी पढ़े : बड़ी खबर : IPL शुरू होने से पहले इस टीम के 13 लोग कोरोना पॉजिटिव
यह भी पढ़े : IPL : धोनी की टीम को अब ये खिलाड़ी दे सकता है झटका
युवी ने 2007 में इंग्लैंड के खिलाफ केवल 12 बॉल पर 50 रन ठोक दिए थे। उनकी इस पारी में छह छक्के और तीन चौके शामिल थे। युवी के इस रिकॉर्ड के करीब तो बहुत से खिलाड़ी पहुंचे हैं, लेकिन यह रिकॉर्ड नहीं तोड़ पाए।

गौरतलब है कि 37 वर्षीय युवराज सिंह ने भारत के लिए अपना आखिरी वनडे मैच 30 जून 2017 को वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला था। युवी ने अपना आखिरी टी-20 मैच 1 फरवरी 2017 को इंग्लैंड के खिलाफ खेला। जबकि आखिरी टेस्ट मैच दिसंबर 2012 में इंग्लैंड के ही खिलाफ खेला था।

loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...