महाराभारत का युद्ध जीतने में लगे 18 दिन, कोरोना को 21​ दिन में हराने की कोशिश: PM

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते पीएम मोदी ने कल दूसरी बार देश को संबोधित किया था ओर इस दोरान 21 दिनो के लॉक डाउन की घोषणा कर दी थी। वहीं आज मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के लोगों से वीडयो कॉफ्रेंसिग के जरिए बातचीत की। महामारी कोरोना वायरस पर बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि महाराभारत का युद्ध 18 दिन में जीता था, कोरोना से 21 दिन में जीत की कोशिश है।
पीएम मोदी ने कहा कि महाभारत का युद्ध 18 दिन में जीता गया था, आज कोरोना के खिलाफ जो युद्ध पूरा देश लड़ रहा है, उसमें 21 दिन लगने वाले हैं। हमारा प्रयास है इसे 21 दिन में जीत लिया जाए। उन्होने कहा कि महाभारत के युद्ध में भगवान श्रीकृष्ण महारथी, सारथी थें, आज 130 करोड़ महारथियों के बलबूते पर हमें कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई को जीतना है। इसमें काशीवासियों की बहुत बड़ी भूमिका है।
प्रधानमंत्री ने कहा कि काशी का अनुभव शाश्वत, सनातन, समयातीत है और इसलिए, आज लॉकडाउन की परिस्थिति में काशी देश को सिखा सकती है- संयम, समन्वय, संवेदनशीलता। काशी देश को सिखा सकती है- सहयोग, शांति, सहनशीलता. काशी देश को सिखा सकती है- साधना, सेवा, समाधान। पीएम ने कहा कि काशी का तो अर्थ ही है- शिव. शिव यानी कल्याण। शिव की नगरी में, महाकाल-महादेव की नगरी में संकट से जुझने का, सबको मार्ग दिखाने का सामर्थय है।
इस दौरान पीएम मोदी ने कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए लोगों को घरों में रहने को कहा। पीएम ने कहा कि कोरोना बीमारी के देखते हुए देशभर में व्यापक तैयारियां की जा रही है। सभी को इस समय घरों में रहना अति आवश्यक है। यही इस बीमारी से बचने का बेहतर उपाय है।
इस दौरान पीएम मोदी ने हेल्पलाइन नंबर की भी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कोरोना से जुड़ी सही और सटीक जानकारी के लिए सरकार ने WhatsApp के साथ मिलकर एक हेल्पडेस्क भी बनाई है। पीएम ने कहा कि अगर आपके पास WhatsApp की सुविधा है तो आप इस नंबर 9013151515 पर ‘नमस्ते’ खिलकर भेजेंगे तो आपको उचित जवाब मिलना शुरू हो जाएगा।
प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना से संक्रमित दुनिया में 1 लाख से अधिक लोग ठीक भी हो चुके हैं। भारत में भी दर्जनों लोग कोरोना के शिकंजे से बाहर निकले हैं। उन्होने लोगों से जरूरतमंदो की मदद करने की अपील की है।

Loading...
loading...
Loading...