भोपाल में उठी पत्रकारों की जांच की मांग

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी खुद को किया कोरेण्टाइन

रूबी सरकार
भोपाल के वरिष्ठ पत्रकार के कोरोना रिजल्ट पॉजिटिव आने के बाद स्वास्थ्य सुरक्षा की दृष्टि से उनके संपर्क में आये लोग और परिवार खुद को होम कोरेण्टाइन कर ले। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि विगत दिनों कोरोना संक्रमण पॉजिटिव पाई गई लड़की के पिता का कोरोना संक्रमण सेम्पल भी पॉजिटिव आया है।
सीएचएमओ डेहरिया ने बताया पत्रकार के.के. सक्सेना के संपर्क में आये प्रत्येक व्यक्ति को 14 दिन तक होम आइसोलेशन में रहने की आवश्यकता है। 6 से 7 दिनों में सर्दी, खासी, बुखार आने पर तुरन्त कंट्रोल रूम से संपर्क करने की हिदायत दी जा रही है।
ये भी पढ़े: लॉकडाउन के चलते नहीं पहुंची बारात फिर भी हुआ निकाह

लड़की के स्वास्थ्य मानकों के अनुसार मिलने जुलने वाले 10 व्यक्तियों के सैंपल जांच हेतु भेजे गए थे। उनमें से 9 लोगो के टेस्ट नेगेटिव आए है , उनकी माताजी, भाई, घर मे काम करने वाले लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आइ है। केवल उनके पिताजी का टेस्ट पॉजिटिव आया है, जिन्हे इलाज हेतु एम्स हॉस्पिटल, भोपाल में भर्ती कराया जा रहा है।
ये भी पढ़े: अमेरिकी पैकेज : भारतीय शेयर बाजार ने पकड़ी रफ्तार
डॉ. डेहरिया ने आमजन से अपील की है, कि किसी को पेनिक होने या घबराने की आवश्यकता नहीं है लड़की और पिताजी भी नार्मल है दोनों का इलाज एम्स में चल रहा है। साथ ही साथ कोरोना पॉजिटिव आए व्यक्ति से क्लोज कॉन्टैक्ट मे आए व्यक्तियों को स्वयं को 14 दिन तक होम क्वारेन्टीन करने की हिदायत भी दी गई है।
इधर पत्रकारों का कहना है कि समय रहते सभी पत्रकारों की जांच हो जाये तो बेहतर है। क्योंकि पिछले दिनों पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की 20 मार्च को आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में वे मौजूद थे और कई नेता, अधिकारी व पत्रकार उनके संपर्क में आये थें, इनमें से दिल्ली से आये पत्रकार भी मौजूद थे, जो संसद में रिर्पोटिंग करते हैं।
इस बीच कमलनाथ के राजनीतिक सलाहकार मिगलानी भी अस्वस्थ्य है। बताया जा रहा है कि मिगलानी भी संक्रमित केके सक्सेना से मिले थे। मिगलानी मुख्यमंत्री के निवास में कमलनाथ के साथ साए की तरह रहते थे।
इस प्रेस कांफ्रेंस में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सहित कांग्रेस के सभी विधायक और प्रदेष के वरिष्ठ अधिकारियों सहित 200 से अधिक पत्रकार मौजूद थे। मिगलानी के बाद कमलनाथ ने भी खुद को क्वॉरेंटाइन कर लिया है।
हालांकि डॉ. डेहरिया ने कहा है कि किसी का सेम्पल लेने की आवश्यकता नही आईसीएमआर की गाइड लाइन के अनुसार ही उनके पिताजी और परिवार के सेम्पल लिये गए है। 10 सेम्पल में से केवल एक सेम्पल ही पॉजिटिव आया है।
ये भी पढ़े:  सोशल डिस्टेंसिंग : क्या दूरी बनाकर चल रहे हैं भारतीय ?

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button