भारी सुरक्षा के बीच बाहुबली विधायक अनंत सिंह को लेकर पटना पहुंची बिहार पुलिस…

भारी सुरक्षा के बीच बाहुबली विधायक अनंत सिंह (Anant Singh) को एके-47 तथा हैंड ग्रेनेड के बरामदगी मामले में पटना के बाढ़ कोर्ट में पेश किया गया। पटना पुलिस ने सोमवार के बजाय रविवार को ही उन्‍हें कोर्ट में पेश किया। सुनवाई के बाद अनंत सिंह को 14 दिनों की न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया गया। उन्‍हें बेऊर जेल भेजा गया है। उधर, अनंत सिंह को पटना एयरपोर्ट पर वीआइपी गेट से बाहर निकाले जाने पर सियासत तेज है। पुलिस फिर कठघरे में है। हालांकि एसपी अभियान ने मीडिया को बताया कि सुरक्षा को लेकर ऐसा किया गया था। इतना ही नहीं, बाढ़ से बेऊर तक के बीच एक जैसे दो कैदी वाहनों को भी रखा गया, ताकि किसी को पता नहीं चले कि अनंत सिंह किस वाहन में हैं। दूसरी ओर, अनंत सिंह की पत्‍नी नीलम देवी ने पुलिस पर बड़ा आरोप लगाया है।

Loading...

इसके पहले बाहुबली विधायक अनंत सिंह को लेकर बिहार पुलिस पटना पहुंची। गो एयर (Go Air) की फ्लाइट से उन्‍हें पटना लाया गया। उन्‍हें पटना एयरपोर्ट से सीधे बाढ़ कोर्ट ले जाया गया। पटना से बाढ़ तक सुरक्षा टाइट कर दी गई थी। चप्‍पे-चप्‍पे पर पुलिस की तैनाती की गई थी। मुख्‍य प्‍वाइंटों पर सीनियर पुलिस अफसर को लगाया गया था। गाैरतलब है कि दिल्‍ली के साकेत कोर्ट (Saket Court) ने अनंत सिंह को दो दिनों की ट्रांजिट रिमांड पर बिहार पुलिस को सौंपी है।

बता दें कि विधायक के पुराने घर से एके 47 तथा दो हैंड ग्रेनेड समेत कारतूसों के बरामद होने के बाद अनंत सिंह 17 अगस्‍त से फरार थे। बाद में उन्‍होंने तीन वीडियो जारी किया और कहा कि वे फरार नहीं हैं तथा जल्‍द ही कोर्ट में सरेंडर करेंगे। उन्‍हें बिहार पुलिस पर भरोसा नहीं है। बाद में अनंत सिंह ने शुक्रवार को दिल्‍ली के साकेत कोर्ट में सरेंडर किया था। शुक्रवार की रात उन्‍होंने तिहाड़ जेल में गुजारी। शनिवार को साकेत कोर्ट में पुन: पेशी के बाद उन्‍हें बिहार पुलिस को सौंपी गई।

इससे पहले मोकामा के निर्दलीय विधायक अनंत सिंह के शनिवार की रात में ही पटना आने की बात कही जा रही थी, लेकिन देर रात यह साफ हो गया कि रविवार की सुबह अनंत सिंह को लेकर बिहार पुलिस पहुंचेगी। रविवार की सुबह उन्‍हें निर्धारित समय पर लेकर पुलिस पटना एयरपोर्ट पर पहुंची। रविवार की सुबह गो एयर फ्लाइट के जी 8 165 से पटना लाया गया। फिर पटना एयरपोर्ट से अनंत सिंह को भारी सुरक्षा व्‍यवस्‍था के बीच सीधे बाढ़ ले जाकर स्‍थानीय कोर्ट में पेश किया गया। वहां से उनहें 14 दिनों की न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। इसके बाद अनंत सिंह को बेऊर जेल में शिफ्ट कर दिया गया है। हालांकि उन्‍हें अभी किस सेल में रखा गया है, इसके बारे में मीडिया को जानकारी नहीं मिली है।

खास बात कि बाढ़ कोर्ट से बेऊर जेल शिफ्ट किए जाने के दाैरान पुलिस ने एक जैसे दो कैदी वाहनों को रखा था, ताकि यह किसी को पता नहीं चले कि किस कैदी वाहन में अनंत सिंह सवार हैं। कैदी वाहनों के आगे एएसपी लिपि सिंह अपने सरकारी वाहन से चल रही थीं। वहीं दोनों कैदी वाहनों के पीछे भी पुलिस के सीनियर अफसर चल रहे थे। बताया जाता है कि पूरे काफिले में 22 वाहन शामिल थे। इस बाबत एसपी अभियान ने कहा कि सुरक्षा में सेंधमारी का इनपुट मिला था। इसके बाद सुरक्षा और कड़ी कर दी गई। इसी को लेकर पटना एयरपोर्ट पर भी उन्‍हें दूसरे गेट से बाहर निकाला गया। साथ ही एक जैसे दो कैदी वाहनों को रखा गया था।

इधर, मोकामा विधायक की पत्‍नी नीलम देवी ने पुलिस पर बड़ा अारोप लगाया है। उन्‍होंने कहा कि पटना पुलिस की तीन जिप्‍सी ने सुबह में ही उनके घर को घेर लिया था। उन्‍हें न घर से निकलने दिया गया, न ही बाहर से किसी को अंदर आने दिया गया। उन्‍होंने जागरण को बताया कि हमें जानकारी मिली कि विधायक जी की तबीयत खराब है और मैं उनकी एक झलक देखना चाहती थी, लेकिन पुलिस ने घर से बाहर नहीं निकलने दिया।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com