भारत में आयातित होने वाले सामानों में जरूरी होगा आईएसमार्क

नई दिल्ली.
भारत लगभग 371 कैटगरी के सामान विश्व के अनेक देशों से आयात करता है.
जिसमें चीन सहित अनेक देश शामिल हैं. इन सामानों की लिस्ट में खिलौने,
स्टील बार, स्टील ट्यूब, कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स, टेलिकॉम आइटम, हैवी
मशीनरी, पेपर, रबर आर्टिकल्स और ग्लास जैसी चीजें शामिल हैं. 

आयात किये जाने
वाले सामानों का गुणवत्ता स्तर बढ़ाने के लिये भारत अगले वर्ष मार्च से
सामानों पर इंडियन स्टैण्डर्ड मार्क यानी कि आईएस मार्क को जरूरी कर देगा.
इससे बेकार क्वालिटी की वस्तुओं के आयात पर अंकुश लगेगा.

वाणिज्य
मंत्रालय ने पिछले साल इन वस्तुओं की पहचान की थी. मंत्रालय के अधिकारियों
ने बताया कि आत्मनिर्भर भारत पहल के तहत आयात को कम करने और निर्यात बढ़ाने
के लिए कई प्रक्रियाओं में तेजी लाई जा रही है.

उपभोक्ता
मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने दो बीआईएस वेबसाइटों को लॉन्च करने के
बाद बीआईएस के महानिदेशक प्रमोद कुमार तिवारी ने कहा कि संबंधित मंत्रालय
वाणिज्य मंत्रालय द्वारा दी गई सूची से महत्वपूर्ण वस्तुओं की पहचान कर रहे
हैं और वे अनिवार्य मानक बनाने के लिए बीआईएस से भी संपर्क कर रहे हैं. 

उन्होंने कहा
कि कुछ वस्तुओं के लिए ऐसे मानकों की आवश्यकता नहीं है क्योंकि ये कम
मात्रा में आयात किए जाते हैं. वहीं एक सवाल के जवाब में प्रमोद कुमार
तिवारी ने कहा कि वाणिज्य मंत्रालय ने चीनी उत्पादों सहित 371 आयातित टैरिफ
लाइनों की पहचान की है. हम इन सामानों को भारत में लाने के लिए कुछ
अनिवार्य रूल्स तैयार कर रहे हैं.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button