भारत- चीन सैनिकों के बीच फिर हुई झड़प

जुबिली न्यूज़ डेस्क
नई दिल्ली। पूर्वी लद्दाख में LAC पर भारत- चीन सीमा के सैनिकों के बीच एक बार फिर झड़प हुई है। बताया जा रहा है कि चीनी सेना PLA के सैनिकों ने पहले बनी सहमति का उल्लंघन करते हुए पूर्वी लद्दाख में घुसपैठ की कोशिश की। भारतीय सेना ने पैंगोंग त्सो इलाके में चीनी सैनिकों को घुसने से रोका।
भारतीय सेना के पीआरओ कर्नल अमन आनंद के अनुसार ये झड़प 29-30 अगस्त को हुई। चीनी सैनिकों ने पहले बनी सहमति का उल्लंघन करते हुए पूर्वी लद्दाख में घुसपैठ की कोशिश की।
ये भी पढ़े: लता मंगेशकर की बिल्डिंग को BMC ने क्यों किया सील ?
ये भी पढ़े: Corona Update : मृत्यु दर घट कर पहुंची 1.78 फीसदी पर

The Indian Army is committed to maintaining peace and tranquility through dialogue, but is also equally determined to protect its territorial integrity. A Brigade Commander level Flag Meeting is in progress at Chushul to resolve the issues: Col Aman Anand, PRO, Army
— ANI (@ANI) August 31, 2020

भारतीय सैनिकों ने पैंगोंग त्सो झील के दक्षिण किनारे पर चीनी सैनिकों की घुसपैठ की कोशिशों को नाकाम कर दिया। चीन लगातार इस क्षेत्र की यथा स्थिति को बदलने की कोशिश में जुटा है।
कर्नल अमन आनंद के मुताबिक भारतीय सेना बातचीत और शांति से यह मुद्दा सुलझाना चाहती है। लेकिन सेना समान रूप से अपनी क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा के लिए भी दृढ़ है। इस मामले को सुलझाने के लिए ब्रिगेड कमांडर लेवल की बातचीत चल रही है।
बॉर्डर पर पिछले 3 महीनों से तनाव की स्थिति है। 15 जून को पूर्वी लद्दाख के गलवान में दोनों देशों की सेनाओं के बीच हिंसक झड़प हुई थी। इसमें भारत के 20 जवान शहीद हुए थे। जबकि चीन के 40 सैनिक मारे गए थे। हालांकि चीन ने यह तो माना है कि उसके सैनिक मारे गए, लेकिन यह नहीं बताया कि उसके कितने सैनिक मारे गए।
ये भी पढ़े: राहुल ने बताया ‘मोदी सरकार ने कैसे नष्ट की अर्थव्यवस्था’
ये भी पढ़े: केंद्र ने राज्यों को GST में कमी की भरपाई के लिए सुझाए विकल्प
ये भी पढ़े: जानिए योगी सरकार ने अनलॉक 4.0 की गाइडलाइन में क्या बनाए नियम

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button