भारत के पहले लोकपाल बने जस्टिस पिनाकी घोष,राष्‍ट्रपति कोविंद ने दिलाई शपथ

नई दिल्ली। भारतीय लोकतंत्र में आज एक नया अध्‍याय जुड़ गया है। जस्टिस पिनाकी घोष ने शनिवार यानी आज देश के पहले लोकपाल की शपथ ग्रहण की। राष्‍ट्रपति भवन में राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पिनाकी घोष को संविधान की रक्षा की शपथ दिलाई।

Delhi: Justice Pinaki Chandra Ghose with PM Narendra Modi, President Ram Nath Kovind, Vice-President M Venkaiah Naidu and Chief Justice of India Ranjan Gogoi after taking oath as the first Lokpal of India pic.twitter.com/f5BeIaVmYq
— ANI (@ANI) March 23, 2019

ये भी पढ़ें :-बिहार BJP ने घोषित किए 17 प्रत्‍याशी, गिरिराज की सीट बदली, शॉटगन आउट 
आपको बात दें न्यायिक सदस्यों के साथ ही कमिटी में 4 अन्य सदस्यों के तौर पर दिनेश कुमार जैन, अर्चना रामसुंदरम, महेंद्र सिंह और डॉक्टर इंद्रजीत प्रसाद गौतम भी शामिल किए गए हैं. इन नियुक्तियों की सिफारिश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नीत चयन समिति ने की थी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उसे मंजूरी दी थी।
ये भी पढ़ें :-आतंकियों की भर्ती कर रहा जैश-ए-मोहम्‍मद : आतंकी सज्‍जाद 
जानकारी के मुताबिक इसी हफ्ते राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज जस्टिस पिनाकी चंद्र घोष को देश का पहला लोकपाल नियुक्त किया था। आधिकारिक आदेश के मुताबिक, सशस्त्र सीमाबल (एसएसबी) की पूर्व प्रमुख अर्चना रामसुंदरम, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्य सचिव दिनेश कुमार जैन, महेंद्र सिंह और इंद्रजीत प्रसाद गौतम को लोकपाल के गैर न्यायिक सदस्य नियुक्त किया गया है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button