भाजपा सरकार पर अखिलेश के तीखे वार, कहा-जनता को खौलते मंहगे तेल में झुलसाया

लखनऊ: केन्द्र सरकार की पेट्रोल-डीजल की कीमतों में ढाई रूपये की कमी को नाटक करार देते हुए समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार ने यह निर्णय जनता को राहत देने के लिए नहीं बल्कि तेल कंपनियों के लगातार ध्वस्त होते शेयरों को बचाने के लिए किया है।
यादव ने कहा कि चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की यह कोशिश जनता को बहकाने-भटकाने की साजिश का हिस्सा है।
ऊंट के मुंह में जीरा जैसी राहत दी 

केन्द्र ने ऊंट के मुंह में जीरा जैसी जो राहत दी है वह तो पेट्रोल-डीजल को जीएसटी में लाकर दी जा सकती थी। केन्द्र और राज्य में तो भाजपा की डबल इंजन सरकारें हैं फिर भी प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री ने जनता को खौलते मंहगे तेल में खूब झुलसाया है।   
उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार पेट्रोलियम उत्पादों से 10 लाख रूपए तक की अतिरिक्त कमाई करने के बाद मामूली क्षणिक राहत दे रही है लेकिन जनता इसके झांसे में आने वाली नहीं है।
2014 में सत्ता में आने के बाद से भाजपा सरकार पेट्रोल पर 9.48 पैसे की एक्साइज डयूटी को 17.98 रूपए एवं डीजल पर 3.56 रूपए प्रतिलीटर की एक्साइज डयूटी को 13.83 रूपये प्रति लीटर बढ़ा चुकी है। चूंकि अब चुनाव सिर पर है और भाजपा की नाव डगमगा रही है। यह क्या गारंटी है कि अब पेट्रोलियम पदार्थो के दाम नहीं बढ़ेंगे। 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button