बड़ी ख़बर: पीएम को कठघरे में खड़ा कर सकते हैं, सचिन पर उंगली नहीं उठा सकते…

पूर्व भारतीय क्रिकेटर और मास्टर बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर 44 साल के हो गए है. सचिन ना सिर्फ अपने खेल और रिकॉर्ड्स के कारण हर किसी के दीवाने रहे, बल्कि अपने व्यवहार से भी उन्होंने हमेशा सम्मान पाया. अपने खेल की वजह से सचिन ना सिर्फ अपने देश के लोगों के प्रिय रहे, बल्कि उन्होंने विरोधियों से भी हमेशा तारीफ ही बटोरी. क्रिकेट के प्रति खुद को समर्पित करने वाले सचिन को खेल प्रेमियों ने ‘गॉड ऑफ क्रिकेट’ तक कहा. उनके जन्मदिन के मौके पर पढ़िेए वो कसीदे, जिन्हें उनके साथियों ने, विरोधियों ने और अपने-अपने क्षेत्र में दिग्गज रहे लोगों ने पढ़ा.

1) इंडिया में आप प्रधानमंत्री को कठघरे में खड़ा कर सकते हैं, पर सचिन पर उंगली नहीं उठा सकते: नवजोत सिंह सिद्धू

2) मैंने भगवान को देखा है, वह नंबर 4 भारत के लिए खेलता है: मैथ्यू हेडन

3) जब सचिन अच्छी बल्लेबाजी करते हैं तो भारत अच्छी तरह से सोता है: हर्षा भोगले

4) सर डॉन ब्रैडमैन ने सचिन के लिए कहा था कि मैंने जब सचिन को टेलीविजन पर बैटिंग करते हुए देखा, उनकी तकनीक से अचंभित हो गया. अपनी पत्नी को बुलाकर मैंने कहा की खुद की बल्लेबाजी तो मैंने देखी नहीं, लेकिन ऐसा लगता है मै भी इसी अंदाज से खेलता था. मेरी पत्नी टेलीविजन में देखकर बोलीं कि हां आप दोनों के खेलना का तरीका बिलकुल एक सा है.

5) अगर हम भारत में किसी हवाई जहाज पर सफर कर रहे हैं और सचिन साथ बैठे हैं तो हमारे साथ कोई बुरा हादसा नहीं हो सकता: हाशिम आमला

6) सचिन के बढ़िया फॉर्म की अवधि हमारे कुछ खिलाड़ियों की उम्र से भी ज्यादा है: डेनियल विटोरी

7) सचिन तेंदुलकर ने 21 साल तक देश का भार उठाया है. यह समय है कि हम उन्हें अपने कंधे पर उठाएं: विराट कोहली (2011 विश्व कप जीतने के बाद)

8) मुझे गैरी कर्स्टन को याद दिलाना पड़ता था कि वो सचिन के खिलाफ कवर्स पर फील्डिंग करने के लिए खड़े हैं, ताली बजाने के लिए नहीं: हंसी क्रोनिए

9) दुनिया में दो किस्म के बल्लेबाज हैं. पहला सचिन तेंदुलकर, दूसरा बाकी सब: एंडी फ्लावर

10) हम भारत नाम की एक टीम से नहीं हारे, हम सचिन नाम के एक आदमी से हार गए: मार्क टेलर

11) सचिन तेंदुलकर ने 1998 में शरजाह में शेन वॉर्न की गेंदों की ऐसी पिटाई की थी कि सचिन उनके सपने में नजर आने लगे थे और यह बात उन्होंने खुद बताई थी. उन्होंने कहा था कि ऐसा लगता है कि वह (सचिन) उनके सपने में भी छक्के लगा रहे हैं.

12) मैंने सचिन की बल्लेबाजी को देखने के लिए कई बार अपनी शूटिंग लेट की है: अमिताभ बच्चन

13) हमारे पास चैंपियन हैं, हमारे पास लैजेंड्स हैं, लेकिन हमारे पास कभी और कोई सचिन तेंदुलकर नहीं था और ना ही होगा: टाइम पत्रिका

14) अगर मेरे ग्रांड चिल्ड्रन ये याद नहीं रखेंगे कि मैंने एक दिवसीय और टेस्ट क्रिकेट में 10,000 रन बनाए हैं, तो वे निश्चित रूप से इस तथ्य को याद रखेंगे कि मैं सचिन तेंदुलकर के साथ खेला हूं: राहुल द्रविड़

15) सचिन को आउट कर आप आधी लड़ाई जीत जाते हैं: अर्जुन रणतुंगा

16) जब सचिन क्रीज पर होते तो मैं कभी थका महसूस नहीं करता: अंपायर रूडी कर्टजन

17) ऐसे खिलाड़ी से हारने में कोई शर्म नहीं है: स्टीव वॉ

18) मैं कहूंगा कि वह 99.5 प्रतिशत सही है: विवियन रिचर्ड्स

19) सचिन वो एकमात्र बल्लेबाज हैं, जिसे देखने के लिए मैं टिकट का भुगतान करके देखना चाहता हूं: ब्रायन लारा

20) कभी कोई दूसरा सचिन तेंदुलकर नहीं होगा: मुथैया मुरलीधरन

21) मैं भाग्यशाली हूं कि सचिन को मुझे केवल नेट पर ही गेंदबाजी करनी है: अनिल कुंबले

22) शिमला से दिल्ली तक ट्रेन में सफर के दौरान एक हॉल्ट था. ट्रेन सामान्य रूप से कुछ मिनटों तक रुक गई. सचिन सेंचुरी के करीब थे. वो 98 पर बल्लेबाजी कर रहे थे. यात्री, रेलवे अधिकारी हर कोई सचिन के शतक पूरा करने का इंतजार कर रहे थे. यह प्रतिभा भारत में समय रोक सकता है: पीटर रोबक (पूर्व इंग्लिश क्रिकेटर)

23) अपने सभी अपराधों को स्वीकार कर लीजिए, जब सचिन बल्लेबाजी करते हों. यहां तक कि किसी का भी ध्यान नहीं दिया जाएगा, क्योंकि भगवान भी उसे देख रहे होंगे: एससीजी पर एक प्लेकार्ड

24) क्रिकेट के लिए तेंदुलकर वो हैं, जो बास्केटबॉल के लिए माइकल जॉर्डन है और बॉक्सिंग के लिए मुहम्मद अली हैं: ब्रायन लारा

25) सचिन जैसे क्रिकेटर जीवनभर में एक बार आते हैं, और मुझे विशेषाधिकार प्राप्त हुआ कि वे मेरे समय में खेले: वसीम अकरम

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button