बीजेपी दफ्तर में लाया गया मनोहर पर्रिकर का पार्थिव शरीर : गोवा

गोवा: गोवा के मुख्यमंत्री और पूर्व रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर का पैनक्रियाटिक कैंसर के चलते 63 साल की उम्र में निधन हो गया है. पर्रिकर का लंबे वक्त तक न्यूयॉर्क में इलाज चला था. इसके बाद वो दिल्ली के एम्स में भर्ती रहे. बाद में वे गोवा वापस लौट गए. शनिवार को उनकी हालत बिगड़ गई थी आज सैन्य और राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा. मनोहर पर्रिकर का जन्म 13 दिसंबर 1955 को गोवा के मापुसा गांव में हुआ था.
ये भी पढ़ें : सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज पिनाकी चंद्र घोष होंगे देश के पहले लोकपाल 
बता दें कि मनोहर पर्रिकर ने आईआईटी बॉम्बे से इंजीनियरिंग की पढ़ाई की, पढ़ाई के बाद पर्रिकर छात्र जीवन में ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़ गए थे.
मनोहर पर्रिकर का अंतिम संस्कार सैन्य और राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा
फरवरी 2018 में पर्रिकर के अग्नाशय कैंसर से पीड़ित होने की बात सामने आई थी,इसके बाद गोवा, मुंबई, दिल्ली और न्यूयॉर्क के अस्पतालों में उनका इलाज होता रहा.
मिरामार बीच पर होगा पर्रिकर का अंतिम संस्कार
मनोहर पर्रिकर का अंतिम संस्कार सोमवार को सैन्य और राजकीय सम्मान के साथ मिरामार बीच पर किया जा जाएगा.
मनोहर पर्रिकर का पार्थिव शरीर
BJP दफ्तर लाया गया पणजी, गोवा: मनोहर पर्रिकर के पार्थिव शरीर को बीजेपी दफ्तर लाया गया. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने दी पर्रिकर को श्रद्धांजलि,बीजेपी ऑफिस ले जाया जा रहा है मनोहर पर्रिकर का पार्थिव शरीर.

Goa: Mortal remains of Goa CM #ManoharParrikar being taken to BJP office from his residence, in Panaji. pic.twitter.com/Ksr8afYDNa
— ANI (@ANI) March 18, 2019

पीएम मोदी सहित कई मंत्री देंगे श्रद्धांजलि
गोवा के सीएम और पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर की अंतिम यात्रा में पीएम मोदी समेत कई मंत्री शामिल होंगे. बताया जा रहा है कि राजनाथ सिंह, निर्मला सीतारमण और अमित शाह भी पर्रिकर को गोवा श्रद्धांजलि देने पहुंचेंगे.
गोवा के कोर्ट बंद
मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद पूरे गोवा में शोक व्याप्त है. इसी को लेकर आज गोवा में स्थित हाई कोर्ट ऑफ बॉम्बे और सभी डिस्ट्रिक्ट कोर्ट बंद रहेंगे.आज शाम पर्रिकर का अंतिम संस्कार होना है.

#Goa: High Court of Bombay at Goa and District Courts in the state to remain closed today in view of passing away of Goa CM #ManoharParrikar.
— ANI (@ANI) March 18, 2019

सुरक्षा का कड़ा इंतजाम
राज्य में किसी भी तरह की बुरी घटना से बचने के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए जा रहे हैं. इसी क्रम में सीएम हाउस के बाहर भी पुलिस वालों की तैनाती की गई.

Panaji: Visuals from outside the residence of late Goa Chief Minister Manohar Parrikar. pic.twitter.com/1qFWjHecUc
— ANI (@ANI) March 17, 2019

दुख भरे वक्त में भगवान परिवार को ताकत दे: चंद्रबाबू नायडू
चंद्रबाबू नायडूपूर्व रक्षामंत्री और गोवा के मुख्यमंत्री के असामयिक निधन पर गहरी संवेदनाएं. उनकी आत्मा को शांति मिले. इस दुख भरे वक्त में ईश्वर उनके परिवार को ताकत दे.

Andhra Pradesh CM N Chandrababu Naidu: Deepest condolences over the untimely death of former Defence Minister and Chief Minister of Goa #ManoharParrikar. May his soul rest in peace. May God give strength and support to the bereaved family at this saddest hour. pic.twitter.com/YF3KVkRhxw
— ANI (@ANI) March 17, 2019

SAG ग्राउंड में होगा अंतिम संस्कार
मनोहर पर्रिकर का पार्थिव शरीर पंजिम के बीजेपी हेड ऑफिस में सुबह 9:30 बजे कार्यकर्ताओं के दर्शन के लिए रखा जाएगा.
10 बजकर 30 मिनट पर उनके पार्थिव शरीर को पंजिम की ही कला एकेडमी में ले जाया जाएगा. यहां 11 से 4 बजे तक आम लोग उनके अंतिम दर्शन कर सकेंगे.
4 बजे उनकी अंतिम यात्रा एसएजी ग्राउंड, कैंपल के लिए निकलेगी. यहां 5 बजे उनका अंतिम संस्कार होगा.
सोमवार को राष्ट्रीय शोक का ऐलान
केंद्र सरकार ने गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन पर सोमवार को राष्ट्रीय शोक का ऐलान किया है. इस दिन झंडा आधा झुका रहेगा.
ममता बनर्जी की परिवार के लिए संदेश
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ट्विटर पर लिखा, ‘गोवा के चीफ मिनिस्टर मनोहर पर्रिकर जी के निधन से दुखी हूं. उन्होंने धैर्य के साथ अपनी बीमारी को सहा. उनके परिवार और प्रशंसकों के लिए प्रार्थना करती हूं.’
अरुण जेटली ने व्यक्त कीं संवेदनाएं
वरिष्ठ बीजेपी नेता और गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन से दुखी हूं. उन्हें सभी याद करेंगे. भगवान दिवंगत आत्मा को शांति दे. ओम शांति

Saddened to know about the demise of senior BJP leader Shri Manohar Parrikar ji, Chief Minister of Goa. He always led by example in his public life & was loved by masses. He will be missed by everyone of us. May God render peace to the departed soul. Om Shanti ॐ शान्ति
— Chowkidar Arun Jaitley (@arunjaitley) March 17, 2019

सभी पार्टियों के बीच पर्रिकर की इज्जत थी: राहुल गांधी
श्री मनोहर पर्रिकर जी के निधन से मैं दुखी हूं. उन्होंने एक साल तक बहादुरी से इस बीमारी से संघर्ष किया. सभी पार्टियों में उनकी इज्जत थी. वो गोवा के सबसे पसंदीदा बेटे थे. दुख की इस घड़ी में उनके परिवार के साथ मेरी संवेदनाएं हैं.

I am deeply saddened by the news of the passing of Goa CM, Shri Manohar Parrikar Ji, who bravely battled a debilitating illness for over a year.
Respected and admired across party lines, he was one of Goa’s favourite sons.
My condolences to his family in this time of grief.
— Rahul Gandhi (@RahulGandhi) March 17, 2019

परिवार के साथ मेरी संवेदनाएं: उमर अब्दुल्ला
उमर अब्दुल्लामनोहर पर्रिकर साहब के परिवार के साथ मेरी गहरी संवेदनाएं हैं. उनकी बेवक्त मौत से जो खालीपन पैदा हुआ है, उसे भरना मुश्किल होगा. भगवान उनकी आत्मा को शांति दे

My heartfelt condolences to the family, friends & colleagues of #ManoharParrikar Sahib. His untimely demise has left a void that will be difficult to fill. May his soul rest in peace.
— Omar Abdullah (@OmarAbdullah) March 17, 2019

उनके योगदान को आने वाली पीढ़ियां याद रखेंगी: PM
प्रधानमंत्री मोदी एक असली देशभक्त और काबिल प्रशासक, उनकी सभी तारीफ करते थे. देश के लिए उनकी त्रुटिहीन सेवा को आने वाली पीढ़ियां याद रखेंगी. उनके निधन से मैं दुखी हूं.
प्रधानमंत्री ने आगे लिखा, ‘श्री पर्रिकर आधुनिक गोवा के निर्माता हैं. उनके सरल व्यक्तित्व और उन तक आसान पहुंच ने उन्हें सालों तक गोवा का नेता बनाए रखा.

Shri Manohar Parrikar was an unparalleled leader.
A true patriot and exceptional administrator, he was admired by all. His impeccable service to the nation will be remembered by generations.
Deeply saddened by his demise. Condolences to his family and supporters.
Om Shanti. pic.twitter.com/uahXme3ifp
— Chowkidar Narendra Modi (@narendramodi) March 17, 2019

जानकारी के अनुसार साल 1994 में गोवा की पणजी विधानसभा सीट से चुनाव जीतकर पर्रिकर पहली बार विधायक बने थे. मनोहर पर्रिकर साल 2000 में पहली बार गोवा के मुख्यमंत्री बने और वह 2002 तक इस पद पर रहे. 2002 में ही पर्रिकर दोबारा गोवा के मुख्यमंत्री बने और 2005 में बीजेपी के सत्ता से बाहर होने तक वह इस पद पर रहे. 2012 में बीजेपी के सत्ता में लौटने पर पर्रिकर एक बार फिर गोवा के मुख्यमंत्री बने. साल 2014 में केंद्र में बीजेपी की अगुवाई में एनडीए की सरकार बनी. इस सरकार में मनोहर पर्रिकर को रक्षा मंत्री बनाया गया. वह 2017 तक इस पद पर रहे.
ये भी पढ़ें : लोकसभा चुनाव 2019: कांग्रेस जबर्दस्ती यूपी में गठबंधन हेतु 7 सीटें छोड़ने की भ्रान्ति ना फैलाये”- मायावती 
2017 में मनोहर पर्रिकर एक बार फिर गोवा के मुख्यमंत्री बने.
गोवा के राजनीतिक समीकरण
पर्रिकर की हालत शनिवार को काफी बिगड़ गई थी. इसके बाद से ही गोवा में राजनीतिक हलचल तेज हो चुकी है. कांग्रेस ने भी शनिवार को सरकार बनाने का दावा किया था. इस बारे में पार्टी ने गवर्नर को भी लेटर लिखा था. पर्रिकर की बिगड़ती हालत के बीच बीजेपी ने अगले सीएम की तलाश भी शुरु कर दी है.
.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button