प्यार मोहब्बत, धोका और बचपना

हर हीरा चमकदार नहीं होता,
हर समंदर गहरा नहीं होता…
दोस्तो जरा संभल कर प्यार करना,
हर खूबसूरत चेहरा वफादार नहीं होता…
जी हाँ आज हम आपको बताने जा रहे है प्यार इश्क़ और धोके के बारे में.
आज के समय में हर एक लड़के और लड़की को चाह होती है एक अच्छे हमसफ़र की. बच्चे किशोर अवस्था में जज्बातों में बह कर प्यार कर बैठते है. जबकि उनको ये भी नहीं पता होता है की सच में प्यार के क्या मायने होते है. अक्सर बच्चे बचपने में प्यार के चक्कर में हाँथ पैर काट लेते है. बच्चों के माता पिता को ख़ास ध्यान देना चाहिए जब वो बड़े हो जाए. उनके साथ फ्रेंड्स जैसा व्यव्हार करना चाहिए ताकि वो अपनी साड़ी बातें आपसे आसानी से शेयर कर दे.
LOVE फीलिंग्स में बह कर बच्चे कई बार ग़लत कदम उठा लेते है. कई बार एडल्ट्स फिज़िकल एक्टिविटीज़ को प्यार समझ बैठ ते है जबकि यह सही नहीं होता है. इस नाते बच्चे ग़लत राह में चले जाते है. कुछ कपल्स को सिर्फ फिज़िकल रिलेशन चहिए होता है.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button