पूर्व न्यायाधीश पिनाकी चंद्र घोष देश के पहले लोकपाल

नई दिल्ली 20 मार्च।उच्‍चतम न्‍यायालय के पूर्व न्‍यायाधीश पिनाकी चंद्र घोष को देश का पहला लोकपाल नियुक्‍त किया गया है।
राष्‍ट्रपति भवन से जारी विज्ञप्ति के अनुसार राष्‍ट्रपति राम नाथ कोविंद ने लोकपाल संस्‍था के अध्‍यक्ष के साथ अन्‍य सदस्‍यों की भी नियुक्ति की है। 66 वर्ष के न्यायमूर्ति घोष मई 2017 में उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश पद से सेवा निवृत्त हुए थे। वे 29 जून 2017 से राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के सदस्य हैं। लोकपाल संस्‍था में चार न्‍यायिक और चार अन्‍य सदस्‍य होंगे।
पूर्व मुख्‍य न्‍यायाधीश दिलीप बी भोसले, प्रदीप कुमार मोहंती और अभिलाषा कुमारी तथा छत्‍तीसगढ़ उच्‍च न्‍यायालय के वर्तमान मुख्‍य न्‍यायाधीश अजय कुमार त्रिपाठी को न्‍यायिक सदस्‍य नियुक्‍त किया गया है।लोकपाल और लोकायुक्त अधिनियम में केंद्र में एक लोकपाल और राज्यों में लोकायुक्तों की नियुक्ति का प्रावधान है।इसे लोकसेवकों की विभिन्न श्रेणियों में भ्रष्टाचार के मामलों की निगरानी का अधिकार दिया गया है।यह अधिनियम 2013 में पारित किया गया था।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button