नक्‍सली मुठभेड़: घने जंगलों में 17 जवान लापता, बुलेटप्रूफ जैकेट पहनकर आए थे माओवादी

सुकमा.
छत्तीसगढ़ के सुकमा में सुरक्षाबल के जवानों पर नक्सलियों ने बड़ा हमला
किया है. साल 2020 का यह सबसे बड़ा हमला माना जा रहा है. बीते शनिवार की
दोपहर सुकमा के चिंतागुफा पुलिस थाना क्षेत्र के कसालपाड़ और मिनपा के बीच
नक्सलियों ने सुरक्षाबल के जवानों पर हमला कर दिया.

जवान सर्चिंग
से वापस लौट रहे थे. इस हमले के बाद सुरक्षाबल के 17 जवान लापता हो गए हैं,
जबकि 14 घायल हैं. घायल जवानों को शनिवार की देर रात रायपुर एयरलिफ्ट किया
गया है. उनका इलाज रायपुर के रामकृष्ण अस्पताल में जारी है. करीब 300
डीआरजी और एसटीएफ के जवान इस इलाके में ऑपरेशन के लिए निकले थे.

जानकारी के
मुताबिक, मुठभेड़ दोपहर करीब ढाई बजे हुई. बड़ी संख्या में नक्सलियों ने
जवानों को घेर कर हमला कर दिया. करीब तीन घंटे तक मुठभेड़ चली. इसके बाद
नक्सली वहां से भाग गए. इस मुठभेड़ के बाद देर रात तक जवानों की अलग-अलग
टुकड़ियों में कैम्प लौटने का सिलसिला जारी रहा, लेकिन रविवार सुबह तक 17
जवानों का पता नहीं लगाया जा सका था. घना जंगल और मौसम खराब होने के कारण
जवानों की तलाश करने में परेशानी आ रही है. बताया जा रहा है ड्रोन की मदद
से जवानों की तलाश की जा रही है.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button