धोनी ने इंटरनेशनल क्रिकेट से अलविदा कह सबको चौंकाया, सुरेश रैना ने भी उनका साथ निभाया

नई दिल्ली। क्रिकेट की तकरीबन सभी फार्मेट टेस्ट वन डे और टी 20 में भारतीय क्रिकेट को ऊचाईयों तक पहुंचाने में अहम योगदान देने वाले टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने तमाम सुगबुगाहटों और उनको लेकर लगातार जारी तमाम टिप्पणियों पर आज पूरी तरह से विराम लगाते हुए इंटरनेशनल क्रिकेट से सन्यास लेने की घोषणा कर दी। हालांकि इसकी जानकारी उनके द्वारा सोशल मीडिया के जरिये इंस्टाग्राम पर दी गई है। जिसमें उन्होंने दर्द भरे गीतो के जादूगर मुकेश जी के बेहद ही भावुकतापूर्ण एक गीत “मैं पल दो पल का शायर हूं”
के
साथ
अपने
सन्यास
की
घोषणा
की
है। इतना
ही नही भारतीय क्रिकेट के एक और सितारे और घोनी के करीबी सुरेश रैना ने भी आज ही इंटश्रनेशनल
क्रिकेट के सभी फार्मेट से अपने सन्यास की घोषणा कर दी है।

गौरतलब है कि  भारतीय क्रिकेट टीम को बुलंदियों पर ले जाने वाले पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने शनिवार को अचानक से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी। टीम इंडिया को कई सारी उपलब्धियां दिलवाने वाले धोनी ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट के जरिए एक वीडियो शेयर कर इसकी जानकारी दी। उन्होंने लिखा, ‘अपने प्यार और समर्थन के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद। 1929 (7 बजकर 29 मिनट) से मुझे रिटायर्ड माना जाए।’  उन्होंने
अपना
आखिरी
इंटरनैशनल
मैच
पिछले
साल
जुलाई
में
खेला
था।
2019 वर्ल्ड
कप
के
सेमीफाइनल
मैच
में
भारत
को
न्यूजीलैंड
के
खिलाफ
हार
झेलनी
पड़ी
थी,
और
वो
ही
धोनी
का
आखिरी
इंटरनैशनल
मैच
था।

बहुत ही अहम बात ये है कि जिस तरह से रांची के एक मध्यम परिवार से निकल कर धोनी ने खुद को क्रिकेट जगत का धूमकेतु साबित किया उसने  न सिर्फ तमाम ऐसे परिवार के बच्चों को हौसला दिया बल्कि उसके बाद कितने ही ऐसे परिवार के बच्चे भारतीय क्रिकेट
का
अहम
हिस्सा
भी
बन
सके।   2004 में बांग्लदेश के खिलाफ अपना डेब्यू करने वाले महेंद्र सिंह धोनी ने भारत के लिए 90 टेस्ट, 350 एकदिवसीय और 98 टी-20 इंटरनेशनल में क्रमश: 4876, 10773, 1617 रन बनाए। आखिरी बार विश्व कप 2019 का सेमीफाइनल खेलने वाले माही लंबे वक्त से क्रिकेट से दूर थे। इस बीच कई बार उनके संन्यास की खबरें भी उड़ी, जो कोरी अफवाह से ज्यादा कुछ नहीं थी। लेकिन जिस तरह से उनको लेकर जब तब लगातार सुगबुगाहटें
और टीका टिप्पणियां जारी थीं वो कहीं न कहीं इस भावुक और कूल रहने वाली शख्सियत को
ठेस तो पहुचाती ही रही होंगी।

टीम इंडिया को कई सारी उपलब्धियां दिलवाने वाले धोनी ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट के जरिए एक वीडियो शेयर कर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की जानकारी दी।  उन्होंने 15 अगस्त 2020 शनिवार शाम लिखा, ‘अपने प्यार और समर्थन के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।  7 बजकर 29 मिनट  से मुझे रिटायर्ड माना जाए।’  धोनी के द्वारा अचानक से संन्यास की घोषणा के बाद सोशल मीडिया पर हर कोई हैरान रह गया और देखते-देखते लोगों की प्रतिक्रियाएं भी आने लगीं।  धोनी
ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा जरूर कह दिया है, लेकिन वह आईपीएल खेलते रहेंगे।
मगर लोगों के जेहन में ये सवाल बार बार घूम रहा है कि आखिर धोनी ने 15 अगस्त के दिन
ही क्रिकेट को अलविदा क्यों कहा? हालांकि लोग इस बात को लेकर तरह तरह के अनुमान लगाने
में लगे हैं लेकिन माना जा रहा है कि धोनी का सेना प्रेम किसी से छिपा नहीं है।

जिसके तहत ही धोनी को 2011 में इंडियन टेरिटोरियल आर्मी में लेफ्टिनेंट कर्नल की रैंक दी गई थी। धोनी भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट कर्नल (मानद उपाधि) से सम्मानित हैं। विश्व कप के दौरान भी धोनी दस्ताने पर ‘बलिदान बैज’ लगाकर खेलने के चलते चर्चा में आए थे। पिछले साल धोनी 31 जुलाई से लेकर 15 अगस्त तक जम्मू-कश्मीर में 106 टेरिटोरियल आर्मी बटालियन (पैरा) के साथ थे। सेना के साथ रहते हुए धोनी पेट्रोलिंग, गार्ड और पोस्ट की ड्यूटी संभाले थे। इस दौरान वह पूरे समय जवानों के साथ थे। बता दें कि साल 2015 में धोनी ने पैराट्रूपर की ट्रेनिंग भी पूरी की थी और आगरा में ट्रेनिंग के दौरान भारतीय सेना के एयरक्राफ्ट से पांच बार पैराशूट से जंप लगाई थी। संभवतः हाल के कुछ समय से सेना से अपने जुड़ाव के चलते उनके अंदर ऐसी भावना उपजी कि 15 अगस्त का ही दिन इस फैसले के लिये सर्वोत्तम है और उन्होंने तभी आज ही सन्यास की घोषणा की।

इसके
अलावा
धोनी
के
करीबी
कहे
जाने
वाले
और
भारतीय
क्रिकेट
के
एक
और
बड़े
सितारे
सुरेश
रैना
ने
भी
आज
ही
इंटरनेशनल
क्रिकेट
से
अपने
सन्यास
की
घोषणा
कर
दी
है।  सुरेश रैना ने अपने ऑफिशियरल इंस्टाग्राम से केदार जाधव, महेंद्र सिंह धोनी, अंबाती रायडू, कर्ण शर्मा और मोनू सिंह के साथ एक तस्वीर शेयर की। इस तस्वीर को शेयर करते हुए उन्होंने कैप्शन दिया- यह आपके साथ खेलना काफी प्यारा रहा महेंद्र सिंह धोनी। पूरे दिल से गर्व के साथ, मैं आपकी इस यात्रा में शामिल होना चाहता हूं। शुक्रिया भारत। जय हिंद। उत्तर प्रदेश के इस क्रिकेटर ने इंटरनैशनल क्रिकेट में खूब नाम कमाया है। साल 2005 में वनडे इंटरनैशनल क्रिकेट में डेब्यू करने वाले रैना मिडिल ऑर्डर में तेज-तर्रार बल्लेबाजी, कामचलाऊ स्पिन गेंदबाजी और अपनी जबर्दस्त फील्डिंग के चलते काफी चर्चा में रहे हैं।

ज्ञात
हो कि रैना ने भारत के लिए 18 टेस्ट, 226 वनडे और 78 टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मुकाबले खेले हैं। इस बीच उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में
7000 से
ज्यादा
रन
बनाए
हैं। सुरेश
रैना
ने
टेस्ट
क्रिकेट
में
768 रन
बनाए।
इसमें
एक
शतक
और
 7 अर्धशतक
 शामिल
रहे।
वनडे
इंटरनैशनल
में
रैना
के
नाम
5615 रन
दर्ज
हैं,
जिसमें
5 शतक
और
36 अर्धशतक
शामिल
हैं।
रैना
का
वनडे
में
बेस्ट
स्कोर
नाबाद
116 रन
रहा।
78 टी-20
में
रैना
ने
कुल
1605 रन
बनाए
हैं,
जिसमें
एक
शतक
और
पांच
अर्धशतक
शामिल
हैं। जानकारी
के मुताबिक फिलहाल सुरेश रैना और महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल 2020 के लिए चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के ट्रेनिंग कैंप के लिए चेन्नई में हैं। इन दोनों खिलाड़ियों ने एक साथ सोशल मीडिया के जरिये स्वतंत्रता दिवस के मौके पर रिटायरमेंट का ऐलान किया।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button