दूसरे राज्‍यों को देखकर भी नहीं जागा यूपी का होम्‍योपैथिक विभाग

/**/

-आयुष मंत्रालय की एडवाइजरी के बावजूद रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली आर्सेसिक एल्‍ब-30 का यूपी में वितरण नजर नहीं आ रहा

सेहत टाइम्‍स ब्‍यूरो

लखनऊ। जब पूरा देश वैश्विक महामारी कोविड-19 से लड़ रहा है, आयुष मंत्रालय ने पहले भी होम्‍योपैथिक दवा आर्सेनिक एल्‍ब-30, जो रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाती है, को देने की सलाह जारी की थी, पिछले दिनों एक बार फि‍र से आयुष मंत्रालय ने आयुष विधाओं की दवाओं के सेवन की सलाह दी है। हालांकि इन दवाओं से कोविड-19 का इलाज का दावा नहीं किया गया है, लेकिन यह सलाह जरूर दी गयी है कि इसके सेवन से रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ती है, जाहिर है जब रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ती है तो बीमारी होने की संभावनायें भी कम हो जाती हैं।

चूंकि कोविड-19 का कोई मुकम्‍मल इलाज अभी नहीं सामने आया है इसलिए सरकार के आयुष मंत्रालय ने यह एडवाइजरी जारी की थी। इसका नतीजा यह हुआ कि आयुष की एक विधा आयुर्वेद के विशेषज्ञों ने कोविड-19 के खिलाफ इस लड़ाई में अपनी सक्रियता दिखानी शुरू की, यहां तक कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने अपने सम्‍बोधन में भी काढ़ा पीने की सलाह दी थी।

ऐसी स्थिति में उत्‍तर प्रदेश जो आबादी के लिहाज से सबसे बड़ा प्रदेश है, यहां होम्‍योपैथी की भूमिका का निर्वहन वृहद रूप से किया जा सकता है, लेकिन यूपी के होम्‍योपैथिक विभाग की सुस्‍ती का आलम यह है कि आयुर्वेद की सक्रियता के साथ ही दूसरे राज्‍यों के होम्‍योपैथिक विभाग की सक्रियता से भी यह सबक नहीं लेना चाहता है। जबकि यह मौका होम्‍योपैथी में दम सबको दिखाने का है।

डॉ अनुरुद्ध वर्मा ने लिखा मुख्‍यमंत्री को पत्र

/**/

डॉ अनुरुद्ध वर्मा

फि‍लहाल केन्द्रीय होम्योपैथी परिषद के पूर्व सदस्य डॉ अनुरुद्ध वर्मा ने सरकार से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाकर कोविड-19 से बचाव के लिए होम्योपैथिक औषधि आर्सेनिक एल्बम वृहद रूप से वितरित कराये जाने की मांग की है।

प्रदेश के मुख्य मंत्री को पत्र लिखकर उन्होंने कहा है कि कोविड-19 की रोकथाम के लि‍ए केंद्रीय आयुष मंत्रालय द्वारा जारी एडवाइजरी में शरीर की इम्युनिटी बढ़ाने के लिए होम्योपैथिक औषधि आर्सेनिक एल्बम 30 दिए जाने की सलाह दी गई है। उन्होंने कहा है कि आयुष मंत्रालय की एडवाइजरी के क्रम में विशेष सचिव, आयुष राज कमल यादव द्वारा 24 अप्रैल को आयुष के सभी आयुष विभाग के निदेशकों को पत्र लिखकर  केंद्रीय आयुष मंत्रालय की एडवाइजरी के अनुरूप औषधियां वितरित कराने के निर्देश भी दिये हैं।

उन्होंने कहा कि देश के अन्य राज्यों जैसे मध्य प्रदेश, गुजरात, राजस्थान, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, उत्तराखंड, गोवा, दिल्ली, केरल, हरियाणा आदि में शरीर की इम्युनिटी बढ़ाकर कोविड 19 से रोकथाम के लिए अभियान चलाकर होम्योपैथिक औषधि आर्सेनिक एल्बम 30 का वितरण संगरोध (कोरेंटीन), कोरोना योद्धा, पुलिस एवं जनता आदि में किया जा रहा है जिसके सकारात्मक परिणाम प्राप्त हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अभी यह अभियान गति नहीं प्राप्त कर पा रहा है।

उन्होंने सरकार से मांग की है कि प्रदेश में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के होम्यो चिकिसाधिकारियों, राजकीय होम्योपैथिक चिकिसाधिकारियों, होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेजों एवम अन्य  माध्यमों से कोरेंटीन सेंटर में भर्ती लोगों एवं जनता में शरीर की इम्युनिटी बढ़ाने के लिए आर्सेनिक अल्ब 30 वितरित कराने का कष्ट  करें जिससे प्रदेश में कोविड-19 से रोकथाम में और अधिक सफलता प्राप्त हो सके।

/**/

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button