दारुलशफा की दीवारों पर लगे विवादित पोस्टर

लखनऊ। राजधानी के विधायक निवास दारुलशफा की दीवारों पर विवादित पोस्टर लगाए गए हैं। पोस्टर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को फरसे के साथ दिखाया गया है। पोस्टर में कई वरिष्ठ मंत्रियों की तस्वीरें हैं। कहा जा रहा है कि यह पोस्टर सूबे में ब्राह्मणों पर हो रहे कथित अत्याचार के विरोध में लगाया गया है।

पोस्टर में सीएम योगी के पीछे केशव प्रसाद मौर्य के साथ भाजपा के कई अन्य बड़े नेताओ की तस्वीरें लगी हैं। ब्राह्मणों को उत्पीड़ित दर्शाया गया है। पोस्टर में भगवान परशुराम के चित्र के साथ सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव को ब्राह्मणों के रक्षक के रूप में दिखाया गया है।

पोस्टर में नीचे बांई तरफ डॉ और करोना पेशेंट को दर्शाते हुए लिखा है, ‘करोना महामारी की आड़ में धन उगाही’। सबसे नीचे बतौर निवेदक समाजवादी छात्र सभा के प्रदेश सचिव विकास यादव की तस्वीर है। सामने ही ये पंक्तियाँ अंकित हैं – “बेटी बचाओ भाजपा भगाओ। बंद करो ब्राह्मणों पर अत्याचार। ना भ्रष्टाचार ना गुंडाराज। अबकी बार अखिलेश सरकार”। पुलिस दीवारों से पोस्टर हटवाने में जुटी है। जानकारी के मुताबिक़ विवादित पोस्टर लगाने वालों के खिलाफ हजरतगंज थाने में मुक़दमा दर्ज कराया जायेगा है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button