…तो PAK ने मान लिया कराची में है दाऊद

जुबिली स्पेशल डेस्क
अरसे से गायब चल रहे मुंबई हमले का मास्टरमाइंड दाऊद इब्राहिम को लेकर बड़ी खबर आ रही है। दाऊद इब्राहिम
कहा है इसको लेकर कयास लगते रहे हैं। इतना ही नहीं भारत ने कई बार कहा है कि मुंबई हमले का मास्टरमाइंड दाऊद इब्राहिम पाकिस्तान  में है।  रत ने इसको लेकर सबूत भी दिया है। अब पाकिस्तान ने भी मान लिया है कि दाउद पाकिस्तान के कराची में है।
दरअसल पाकिस्तान ने 88 प्रतिबंधित आतंकवादी संगठनों और हाफिज सईद, मसूद अजहर और दाऊद इब्राहिम समेत उनके आकाओं पर कड़े वित्तीय प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया है।  इससे पता यह लगता है कि दाउद सच में कराची में ही है।
यह भी पढ़ें : ढाई साल में “माई लार्ड” के खिलाफ 534 शिकायतें
यह भी पढ़ें : गांधी जी का चश्मा हासिल करने के लिए इस कलेक्टर ने दे दिए ढाई करोड़ रुपये
यह भी पढ़ें : इन 62 कानूनों को खत्म करने की तैयारी में है योगी सरकार
यह भी पढ़ें :क्या योगी ने कर दिया संसद का अपमान
जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद वित्तपोषण पर निगरानी रखने वाली संस्था वित्तीय कार्रवाई कार्य बल (एफएटीएफ) की ग्रे लिस्ट से बाहर आने की कोशिशों के तहत किया है। ऐसे में जब दाऊद इब्राहिम संपत्ती जब्त करने की बात पाकिस्तान कर रहा है तो वो साथ में यह भी मान रहा है कि मुंबई हमले का मास्टरमाइंड दाऊद इब्राहिम में ही है।

पाकिस्तानी मीडिया में यह खबर शनिवार को चलायी है। खबर के अनुसार इन आतंकी संगठनों और उनके आकाओं की सभी संपत्तियों को जब्त करने और बैंक खातों को सील करने के आदेश दिए है। खबर के अनुसार सरकार ने इन संगठनों और आकाओं की सभी चल और अचल संपत्तियों को जब्त करने और उनके बैंक खातों को सील करने के आदेश दिए है।
बता दें कि पेरिस स्थित एफएटीएफ ने जून, 2018 में पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में डाला था और इस्लामाबाद को 2019 के अंत तक कार्ययोजना लागू करने को कहा था, लेकिन कोविड-19 महामारी के कारण इस समय सीमा बढ़ा दी गई थी।
क्यों उठाया पाकिस्तान ने ये कदम
पाकिस्तान ने इसलिए इतना बड़ा कदम उठाया ताकि वो ब्लैक लिस्ट होने से बच सके। बता दें कि एफएटीएफ धनशोधन के मामलों पर नजर रखता है और आतंकवादी समूहों की गतिविधियों की देखरेख करता है। पेरिस के इस संगठन ने पिछले वर्ष इस्लामाबाद को ग्रे सूची में रखा था। अभी तक केवल ईरान और उत्तर कोरिया ही काली सूची में हैं।
 ये हैं पूरी सूची
सईद, अजहर, मुल्ला फजलुल्ला (उर्फ मुल्ला रेडियो), जकीउर रहमान लखवी, मुहम्मद यह्या मुजाहिद, अब्दुल हकीम मुराद, नूर वली महसूद, उजबेकिस्तान लिबरेशन मूवमेंट के फजल रहीम शाह, तालिबान नेताओं जलालुद्दीन हक्कानी, खलील अहमद हक्कानी, यह्या हक्कानी, तथा इब्राहीम और उनके सहयोगी सूची में हैं।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button