तेजबहादुर अब रूस्तम’ के अंदाज में इंसाफ की लड़ाई लड़ेंगे, वर्दी पहन कर निकले

BSF जवान तेजबहादुर यादव को उसकी नौकरी से बर्खास्त होने के बाद रूस्तम अंदाज में वर्दी पहनकर कोर्ट गए। उन्होंने कहा कि मैंं अपनी लड़ाई खुद लड़ना चाहता हूूं।तेज बहादुर का कहना है कि हमें ना ही अधिक तनख्वाह चाहिए और ना ही कोई बड़ी और अधिक सुविधाएं। हम बस इतना चाहते हैं कि हमें कम-से-कम अच्छा खाना और वक्त पर छुट्टियां दी जाएं। दरअसल, तेज बहादुर यादव ने सरकार से समर्थन मांगा है उनका कहना है कि अगर वे कोई कार्रवाई करने में सझम नहीं हुए तो मैं कोर्ट जाएंगे।

अभी-अभी: सीएम योगी ने यूपी के नागरिको के लिए कही ये बड़ी बात, खुश हुए सभी लोग

तेजबहादुर अब रूस्तम' के अंदाज में इंसाफ की लड़ाई लड़ेंगे, वर्दी पहन कर निकले

गौरतलब है कि तेज बहादुर ने वीडियो में आरोप लगाया था कि बीएसएफ जवानों को मिलने वाली दाल और परांठे की क्वालिटी बेहद खराब है। उनका कहना था कि कई बार जवानों को 11 घंटे बर्फ में खड़ा रहने के बाद भूखे पेट सोना पड़ता है।यादव का दावा था कि जवानों को मिलने वाले राशन में सीनियर अफसर धांधली कर रहे हैं। इसके बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने जांच के आदेश दिए थे। BSF जवान तेजबहादुर यादव को उसकी नौकरी से बर्खास्त कर दिए जाने पर उनकी पत्नी ने कहा कि है उनके पति के साथ सरकार ने अन्याय किया है। उनके साथ ऐसा नहीं होना चाहिए था।

BSF ने अनुशासनहीनता का बताया आरोपी :

बीएसएफ ने कहा है कि जवान पर अनुशासनहीनता का आरोप है। बीएसएफ की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि अर्जी पर फैसले की जानकारी 30 जनवरी को दी गई ।
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button