जुमे की अज़ान होते ही नम हो गयी पुरे न्यूज़ीलैंड के लोगों की आंखे!

न्यूज़ीलैंड की प्रधानमंत्री ने साबित किया है कि अल्पसंख्यकों के साथ कैसे व्यवहार किया जाता है। मस्जिदों पर आतंकी हमलें होने के बाद उनके लगातार व्यवहार दुनिया के सामने एक नज़ीर बनकर पेश हुई । न्यूजीलैंड में दो मस्जिदों पर आतंकी हमले होने के बाद से ही वहां के मुसलमानों में एक खौफ़ का मंजर बन गया था।

‘We are one’ says PM Ardern as New Zealand mourns with prayers https://t.co/EGdSzRbS1E pic.twitter.com/demvmDTSAW
— Reuters Top News (@Reuters) March 22, 2019

न्यूजीलैंड की पीएम ने एक के बाद एक फैसले लेकर वहां के रह रहे मुसलमानों को बड़ी ताक़त दी और एकजुट करने का काम किया। आज दुनिया में जहां अल्पसंख्यकों को लेकर सरकारें सवालों के घेरे में खड़ी हैं, वहीं उन्होंने जो मिसाल पेश किया है, उससे शायद की अल्पसंख्यकों को शिकायत होगी।

#NewZealand go out pray in public including PM standing in congregation #fridayprayer #JummahMubarak pic.twitter.com/sqTyy0clpK
— Sammy Hegab (@SammyHegab) March 22, 2019

सबसे बड़ी बात रही है कि न्यूज़ीलैंड में रह रहे सभी नागरिकों ने अल्पसंख्यकों के साथ दिखें और दुख की घड़ी में ढ़ाल बनकर खड़े दिखें।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button