जितिन के विरोध पर सिब्बल ने पार्टी को क्या नसीहत दी?

जुबिली न्यूज डेस्क
कांग्रेस पार्टी में ‘पूरी तरह सक्रिय और हर जगह दिखने वाली नेतृत्व’ की मांग वाली चिट्ठी की वजह से कांग्रेस में घमासान मचा हुआ है। एक ओर कांग्रेस हाईकमान डैमेज कंट्रोल करने में लगी है तो वहीं कुछ नेताओं की वजह से पार्टी की मुश्किलें बढ़ती जा रही है।
उत्तर प्रदेश की लखीमपुरी कांग्रेस कमेटी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री व कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। इस मामले में वरिष्ठ कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल की प्रतिक्रिया आई है।
ये भी पढ़े:  कोरोना : कई राज्यों की वित्तीय स्थिति चरमराई
ये भी पढ़े: ममता बनर्जी ने नीट पर कांग्रेस को क्यों समर्थन दिया?
ये भी पढ़े: फेसबुक को ऐड देने में बीजेपी ने फ्लिपकार्ट को छोड़ा पीछे

सिब्बल ने जितिन प्रसाद के खिलाफ कार्रवाई की मांग से जुड़ी खबर की पृष्ठभूमि में आज यानी गुरुवार को कहा कि पार्टी को अपने लोगों पर नहीं, बल्कि भाजपा को ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ से निशाना बनाने की जरूरत है।
उन्होंने कहा कि पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद को आधिकारिक तौर पर निशाना बनाया जाना ‘दुर्भाग्यपूर्ण’ है।
मालूम हो कि जिन 23 कांग्रेस नेताओं ने नेतृत्व बदलने की मांग को लेकर चिट्ठी लिखी थी, उनमें जितिन प्रसाद भी थे।
कांग्रेस नेता सिब्बल ने ट्वीट करते हुए लिखा है, ‘दुर्भाग्यपूर्ण है कि उत्तर प्रदेश में जितिन प्रसाद को आधिकारिक रूप से निशाना बनाया जा रहा है। कांग्रेस को अपने लोगों पर नहीं, बल्कि भाजपा को सर्जिकल स्ट्राइक से निशाना बनाने की जरूरत है।’

Unfortunate that Jitin Prasada is being officially targeted in UP
Congress needs to target the BJP with surgical strikes instead wasting its energy by targeting its own
— Kapil Sibal (@KapilSibal) August 27, 2020

उनके इस ट्वीट से परोक्ष रूप से सहमति जताते हुए कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने ट्वीट किया, ‘भविष्य ज्ञानी।’
ये भी पढ़े: इस सनक का यारों क्या कहना ! 
ये भी पढ़े: कोरोना : मोटे लोगों पर कम असरदार हो सकती है वैक्सीन
ये भी पढ़े:NEET-JEE परीक्षा: सरकार को लिखे खुले पत्र में अखिलेश ने क्या कहा?

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार लखीमपुरी खीरी कांग्रेस कमेटी ने पांच प्रस्ताव पारित किए हैं जिनमें से एक में मांग की गई है कि जितिन प्रसाद के खिलाफ कार्रवाई की जाए।
कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखने वाले उन 23 नेताओं में सिब्बल, तिवारी और प्रसाद भी शामिल हैं जिन्होंने कांग्रेस के संगठन में व्यापक बदलाव, सामूहिक नेतृत्व और पूर्णकालिक अध्यक्ष की मांग की थी। इसको लेकर बड़ा विवाद खड़ा हुआ।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button