जानिए कैसे घर बैठे करे स्किन व्हाइटनिंग इन 5 तरीको से…

दिल्ली : हर किसी की यह चाहत होती है कि उनकी त्वचा स्वस्थ और ब्लीमिशिंग फ्री रहे लेकिन रोजाना धूप में निकलने, प्रदूषण और कई कारणों से हमारी त्वचा डार्क होने लग जाती है। इस डार्कनेस से दूर होने के लिए आप कई फेयरनेस क्रीम और प्रॉडक्ट्स का इस्तेमाल करती हैं, जो कि आपको त्वचा की रंगत बढ़ाने में असरदार नहीं लगते है।लेकिन अगर आप अपने खोए हुए रंग को वापस पाना चाहती हैं तो ऐसे में आप फेयरनेस क्रीम को छोड़कर घर पर बने हुए उपचारों का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह उपचार आसान और सस्ते भी होते हैं, जो त्वचा के लिए बेहतरीन होते हैं। तो आइए आपको स्किन व्हाइटनिंग के 5 ऐसे प्राकृतिक तरीके बतात एक मिल्क उत्पाद होने के कारण दही में लेक्टिक एसिड होता है, जो त्वचा में रंगत और हल्की ब्लीचिंग करता है। लेक्टिक एसिड में एएचए यानि अल्फा हाइड्रॉक्सिल एसिड होता है, जो त्वचा की रंगत को साफ करता है।आधा कप ताजा दही लें और उसे त्वचा पर उस जगह लगाएं जहां व्हाइटनिंग की जरूरत हो।इसके बाद 4 से 5 मिनट इसे लगाकर छोड़ दें और फिर साफ पानी से इसे साफ कर दें।बेहतर परिणाम के लिए इस उपचार को रोजाना इस्तेमाल करें।

शहद में प्राकृतिक माइल्ड ब्लीचिंग के गुण होते हैं, जो स्किन को व्हाइटनिंग के लिए काफी इस्तेमाल किया जाता है। यह सिर्फ त्वचा को व्हाइट नहीं बल्कि मृत कोशिकाओं से भी निजात दिलाता है। इस उपचार को इस्तेमाल करने के लिए आप ऑरगेनिक कच्चे शहद का ही इस्तेमाल करें।शहद में प्राकृतिक माइल्ड ब्लीचिंग के गुण होते हैं, जो स्किन को व्हाइटनिंग के लिए काफी इस्तेमाल किया जाता है। यह सिर्फ त्वचा को व्हाइट नहीं बल्कि मृत कोशिकाओं से भी निजात दिलाता है। इस उपचार को इस्तेमाल करने के लिए आप ऑरगेनिक कच्चे शहद का ही इस्तेमाल करें। सबसे पहले कच्चे आॅरगेनिक शहद को अपने चेहरे पर लगा लें और फिर 5 मिनट के लिए इसे छोड़ दें।इसके सूखने के 5 मिनट बाद चेहरे को गुनगुने पानी से चेहरे को धो लें।अच्छे परिणामों के लिए इस उपचार को रोजाना इस्तेमाल करें।बेसन में ब्लीचिंग और स्किन व्हाइटनिंग के गुण नहीं होते हैं, लेकिन फिर भी यह एक बेहतर स्किन एक्सफोलेटर की तरह काम करता है, और त्वचा को मृत कोशिकाओं से निजात दिलाता है और आपके चेहरे के पोर्स से गंदगी को साफ करता है।एक बाउल में 1 चम्मच बेसन, आधा चम्मच शहद, 1 चम्मच मिल्क क्रीम और 2 से 5 बूंदे नींबू का रस मिलाकर अच्छी तरह से मिला लें। इसके बाद एक पेस्ट तैयार हो जाएगा।

इस पेस्ट को अपनी त्वचा पर लगाकर 15 मिनट का इंतजार करें।कुछ देर बाद, अपने चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें।इस उपचार को इस्तेमाल कर आप घर बैठे बैठे अच्छे परिणाम पा सकते हैं।हल्दी का इस्तेमाल स्किन व्हाइटनिंग के लिए कई सालों से होता आ रहा है।हमारी नानी या दादी ने भी इसका इस्तेमाल किया है और उनके मुताबिक हल्दी से बेहतर कोई और बेहतर उपचार व्हाइटनिंग के लिए है ही नहीं। हल्दी का इस्तेमाल सालों से त्वचा संबंधित कई समस्याओं पर होता आ रहा है। इसके लिए हल्दी के पाउडर को दूध की क्रीम के साथ मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें और फिर इसे त्वचा पर व्हाइटनिंग के लिए लगाएं।इसके बाद इस पेस्ट को सूखने दे और फिर जब यह सूख जाएं तो गुनगुने पानी से चेहरे को धो लें।
बेहतर परिणाम के लिए इस उपचार को रोजाना इस्तेमाल करें।टमाटर में ब्लीचिंग एजेंट होता है, जिससे त्वचा में चमक आती है। टमाटर में विटामिन सी और एस्ट्रीजेंट का काफी अच्छी मात्रा होती है, जो कि स्किन व्हाइटनिंग में काफी मददगार होता है|टमाटर में विटामिन सी की उच्च मात्रा होने के साथ ही एस्ट्रीजेंट गुण होते हैं, जो कि स्किन व्हाइटनिंग के लिए मददगार होती है। टमाटर का एसिडिक होने के कारण यह त्वचा के ऑयल को दूर करता है और त्वचा का पीएच लेवल संतुलित करने की कोशिश करता है। आप टमाटर का इस्तेमाल कर मुंहासे और ऑयली त्वचा से निजात पा सकते हैं।सबसे पहले टमाटर का पल्प निकालकर इसे एक बाउल में रख दें।इसके बाद पल्प को त्वचा पर लगाएं और सूखने तक इंतजार करें।टमाटर के पल्प की लेयर को सूखने दें।इसके बाद चेहरे को 10 मिनट बाद पानी से धो लें।बेहतरीन परिणाम के लिए इस उपचार को रोजाना इस्तेमाल करें।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button