जब रणदीप हुड्डा को अपनी ही भाषा बोलनी पड़ी संभलकर…

randeep-hooda_630x450_81456751118मुंबई: अभिनेता रणदीप हुड्डा की आने वाली फिल्म ‘ये लाल रंग’ में उनको अपनी भाषा बोलने के लिए थोड़ी मशक्कत करनी पड़ी और संभलकर बोलना पड़ा। फिल्म ‘ये लाल रंग’ में रणदीप हरयाणवी जाट की भूमिका निभा रहे हैं और वो खुद भी हरयाणवी हैं। ऐसे में जाहिर है कि रणदीप वहां की भाषा और लहजे से वाकिफ होंगे और यही वजह है कि रणदीप को हरयाणवी भाषा थोड़ी संभलकर बोलनी पड़ी ताकि उनकी भाषा और लहजा हरयाणा के बाहर के लोग भी समझ सकें।

रणदीप ने इस फिल्म और किरदार के बारे में बात करते हुए कहा कि ‘मेरे लिए ये किरदार मुश्किल था, क्योंकि मैं खुद हरयाणवी हूं और मुझे शूटिंग के दौरान लगता था कि कहीं मैं ऐसी भाषा या ऐसे लहजे में ना बोल दूं, जो दूसरों को समझ में ना आए।’

फिल्म ‘ये लाल रंग’ हरयाणा की कहानी है, इसलिए इसका काफी हिस्सा हरयाणा के करनाल में शूट किया गया है। रणदीप को करनाल में शूट करने में मजा आया, क्योंकि ये वहीं के छोरे थे। मगर कभी कभी थोड़ी तकलीफ भी हो जाती थी, जब अपने छोरे को देखने वहां लंबी भीड़ इकठ्ठा हो जाती थी।

रणदीप ने फिल्म के प्रचार के दौरान कहा कि ‘वहां के लोग शूटिंग के दौरान काफी मदद करते थे, खूब सेवा भी करते थे, मगर कभी भीड़ बढ़ जाती थी तब मुझे भीड़ हटाने के लिए माइक लेकर इल्तिजा करनी पड़ती थी।’

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button